Saturday , April 20 2024
Home / जीवनशैली / कब्ज और एसिडिटी की छुट्टी कर देगा तेजपत्ता

कब्ज और एसिडिटी की छुट्टी कर देगा तेजपत्ता

आजकल के अनहेल्दी लाइफस्टाइल में पेट में गड़बड़ एक आम बात बन गई है। अक्सर लोग शरीर को हेल्दी रखने के लिए इंटरनेट तो छान मारते हैं लेकिन घर के किचन में मौजूद चीजों पर ही ध्यान नहीं देते हैं। जी हां हम यहां मसाले के तौर पर इस्तेमाल होने वाले तेजपत्ते से गैस और एसिडिटी की समस्या में होने वाले फायदे और इस्तेमाल के बारे में बता रहे हैं।

भारत में ऐसा कोई घर ढूंढना मुश्किल ही होगा, जिसके किचन में तेजपत्ता न मिलता हो। आप भी अलग-अलग पकवान में इसका इस्तेमाल करते होंगे, लेकिन क्या आप जानते हैं कि मामूली-सा लगने वाला ये सूखा पत्ता आपको कब्ज या एसिडिटी की समस्या से निजात दिला सकता है। जी हां, इस आर्टिकल में हम आपको एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर इस तेजपत्ते के फायदे और इस्तेमाल के तरीके के बारे में बताएंगे।

डाइजेशन को बेहतर करता है
खाने-पीने की हमारी खराब आदतें ही गैस और एसिडिटी की वजह बनती हैं। ऐसे में तेजपत्ता आपके पाचन को दुरुस्त कर सकता है। पेट में होने वाली कब्ज और ऐंठन की समस्या से भी निजात दिलाने में ये आपकी मदद करता है।

इम्युनिटी के लिए फायदेमंद
बदलते मौसम में अक्सर इम्युनिटी वीक हो जाती है। इसमें भी तेजपत्ता काफी फायदेमंद है। चूंकि यह विटामिन सी, ए और बी6 से भरपूर होता है, ऐसे में इसका सेवन आपके लिए अच्छा साबित हो सकता है।

कैसे कर सकते हैं तेजपत्ते का इस्तेमाल?

हर्बल टी
कब्ज से परेशान हैं, तो आप तेजपत्ते की हर्बल टी बनाकर पी सकते हैं। इसके लिए आपको इसे पानी के साथ उबालकर छान लेना है या फिर आप इसे पीसकर एक छोटा चम्मच पाउडर एक गिलास गर्म पानी के साथ मिलाकर पी सकते हैं। इससे कब्ज में राहत तो मिलेगी ही, साथ ही बदलते मौसम में आपकी इम्युनिटी को स्ट्रांग करने के लिए भी से फायदेमंद है।

काढ़ा
आप इन पत्तों का काढ़ा बनाकर भी पी सकते हैं। इसके लिए एक पैन में पानी लें और उसमें अदरक, दालचीनी और तेजपत्ता डालकर 5 मिनट उबाल लें। अब इसमें टेस्ट बढ़ाने के लिए शहद डालकर पी सकते हैं। इस काढ़े में कई एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो आपको अपच, कब्ज और एसिडिटी से छुटकारा दिला सकते हैं।