Friday , April 12 2024
Home / खास ख़बर / हल्द्वानी : सड़क हादसे का शिकार हुए पूर्व सैनिक और सेवानिवृत्त शिक्षक

हल्द्वानी : सड़क हादसे का शिकार हुए पूर्व सैनिक और सेवानिवृत्त शिक्षक

25 मार्च को नैनीताल रोड पर मार्निंग वॉक करते हुए सड़क हादसे का शिकार हुए पूर्व सैनिक और सेवानिवृत्त शिक्षक दोस्त थे। दोनों करीब आठ साल से एक साथ घूमने जाते थे। सड़क हादसे में उनकी मौत से दोनों परिवारों में मातम छाया हुआ है।

नैनीताल रोड पर मार्निंग वॉक करते हुए सड़क हादसे का शिकार हुए पूर्व सैनिक और सेवानिवृत्त शिक्षक दोस्त थे। दोनों करीब आठ साल से एक साथ घूमने जाते थे। सड़क हादसे में उनकी मौत से दोनों परिवारों में मातम छाया हुआ है। वहीं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दोनों परिवारों के घर जाकर शोक संवेदना प्रकट की।

मूलरूप से अल्मोड़ा के लमगड़ा तोली निवासी जगजीवन सिंह (68) हल्द्वानी में नैनीताल रोड स्थित सुभाषनगर में परिवार के साथ रहते थे। वह सेना में सूबेदार पद से सेवानिवृत्त हुए थे। वहीं आवास विकास निवासी पूरन चंद्र शर्मा कालाढूंगी मार्ग स्थित पीडी प्रिंटिंग प्रेस के मालिक थे। वे विवेकानंद इंटर कॉलेज से शिक्षक पद से सेवानिवृत्त हुए थे। दोनों में पिछले आठ साल से गहरी दोस्ती थी।

वे हर सुबह तीन बजे एक साथ टहलने के लिए निकलते थे। सोमवार को सड़क हादसे में दोनों की मौत हो गई। पूर्व सूबेदार का बेटा व्यापारी है। वहीं पूरन चंद्र शर्मा की दो बेटी और एक बेटा है। दोनों बेटियों की शादी हो चुकी है और बेटा दिल्ली में काम करता है। हादसे के बाद से दोनों परिवारों में कोहराम मचा हुआ है। उधर, मंगलवार को हल्द्वानी पहुंचे सीएम पुष्कर सिंह धामी दोनों परिवार के परिजनों से मिलने पहुंचे।

नाना-नानी के घर आया था होली मनाने
नैनीताल रोड पर हुए सड़क हादसे का शिकार हुआ बीबीए छात्र स्वयम कुमार (22) तीन दिन पहले ही दिल्ली से हल्द्वानी आया था। मूल रूप से दिल्ली निवासी स्वयम कुमार के पिता अशोक कुमार दिल्ली स्थित निजी कंपनी में कर्मचारी हैं।

अशोक परिवार के साथ दिल्ली में रहते हैं। स्वयम घर का बड़ा बेटा था। उससे छोटे दो भाई हैं सक्षम और मीत। स्वयम दिल्ली स्थित एक कॉलेज में बीबीए का छात्र था।परिजनों के मुताबिक, स्वयम इस बार होली अपने नाना-नानी के साथ मनाने के लिए त्योहार से तीन दिन पहले ही हल्द्वानी आया था। सोमवार सुबह दोस्त तरुण, अमित, करण और आशीष के साथ घूमने के लिए निकला। घर वालों को फोन आया और पता चला कि हादसे में स्वयम की मौत हो गई। इसकी सूचना दिल्ली में मौजूद युवक के माता-पिता को दी गई। मंगलवार को रानीबाग स्थित चित्रशिलाघाट पर उसका दाह संस्कार किया गया।