Saturday , December 3 2022
Home / जीवनशैली / एसिडिटी-कब्ज की समस्या दूर करने के लिए आजमाएं ये नुस्खा

एसिडिटी-कब्ज की समस्या दूर करने के लिए आजमाएं ये नुस्खा

एसिडिटी का इलाज अगर समय पर नही किया जाए तो यह समस्‍या बढ़ जाती है, जिससे हार्ट और अन्‍य कई तरह की बीमारियां हो सकती है। ऐसे में अगर आप भी कब्ज और एसिडिटी जैसी किसी समस्या से परेशान हैं तो उससे छुटकारा

व्यस्त जीवनशैली और खानपान की खराब आदतें, एसिडिटी, कब्ज और ब्‍लोटिंग जैसी समस्‍याओं का कारण बनती हैं। आज इस तरह की समस्याओं से लगभग हर शख्‍स परेशान है। चिंता की बात यह है कि लगातार कब्ज रहने से शरीर के पाचन तंत्र पर भी काफी बुरा असर पड़ता है। जिसकी वजह से व्यक्ति को सिरदर्द, गैस, भूख में कमी, कमजोरी, जी-मिचलाना आदि समस्याएं उत्पन्न होने लगती हैं। जो कई बार तमाम इलाज और दवाइयों के बाद भी पहले जैसी ही बनी रहती हैं।

एसिडिटी का इलाज अगर समय पर नही किया जाए तो यह समस्‍या बढ़ जाती है, जिससे हार्ट और अन्‍य कई तरह की बीमारियां हो सकती है। ऐसे में अगर आप भी कब्ज और एसिडिटी जैसी किसी समस्या से परेशान हैं तो उससे छुटकारा पाने के लिए काला नमक और अजवायन का ये घरेलू नुस्खा अपना सकते हैं।

ये है काला नमक और अजवायन का ये असरदार नुस्खा-
काला नमक और अजवायन का ये नुस्खा बनाने के लिए सबसे पहले एक पैन में अजवायन सेंक कर इसका पाउडर बना लें। इसमें काला नमक मिलाएं। इसे खाने के बाद गुनगुने पानी के साथ लेने से एसिडिटी दूर होती है। अजवायन में मौजूद थायमॉल और काले नमक में अल्‍केलाइड्स होते हैं। इन दोनों को मिलाकर खाने से एसिडिटी दूर होती है।

कब्ज और गैस से राहत पाने के लिए- 
अगर ऐसिडिटी और गैस से परेशान रहते हैं तो आपके लिए अजवाइन का नियमित सेवन बेहद फायदेमंद है। अगर नियमित नहीं लेते तो जिस दिन ज्यादा तेल-मसाले वाली चीजें खा लें, उस दिन अजवाइन जरूर खाएं। यह पेट में मौजूद हानिकारक तत्वों को खत्म करती है। खाना खाने के 10 मिनट बाद एक छोटा चम्मच साबुत अजवाइन चुटकीभर काला या सेंधा नमक के साथ लें और साथ में आधा गिलास पानी पी लें। हर दिन इसे सब्जियों में डालकर भी खा सकते हैं।

अत्‍यधिक सेवन से बचें-
अजवायन को आधे चम्‍मच से ज्‍यादा न लें, क्‍योंकि इसकी अधिक मात्रा लेने से उल्‍टी या फिर एलर्जी हो सकती है। विशेषज्ञों की मानें तो इसे दो बार से ज्‍यादा इस्‍तेमाल न करें। यदि आपको लिवर संबंधी समस्‍या है या मुंह में छाले हैं तो इसका सेवन न करें।