Thursday , June 1 2023
Home / देश-विदेश / साउथ अमेरिका के देश चिली के जंगलों में भीषण आग लगने से 13 लोगों की मौत..

साउथ अमेरिका के देश चिली के जंगलों में भीषण आग लगने से 13 लोगों की मौत..

साउथ अमेरिका के देश चिली आग की लपटों में झुलस रहा है। दरअसल चिली के जंगलों में भीषण आग लग गई है। जिसमें कम से कम 13 लोगें के मारे जाने की सूचना मिली है। सीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक चिली के अधिकारियों ने कहा कि देश में गर्मी की लहर के चलते चिली में जंगल में लगी आग के कारण 14,000 हेक्टेयर भूमि भी क्षतिग्रस्त हो गई है। चिली की राजधानी सैंटियागो से लगभग 310 मील (500 किमी) दक्षिण में बायोबियो के सांता जुआना शहर में एक दमकलकर्मी सहित ग्यारह लोगों की मौत हो गई है। कृषि मंत्री ने यह भी बताया कि ला अरूकानिया के दक्षिणी क्षेत्र में एक आपातकालीन-सहायता हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त भी हो गया था जिससे पायलट और एक मैकेनिक की मौत हो गई है। अल जज़ीरा की रिपोर्ट के अनुसार, सैंटियागो की राजधानी शहर से लगभग 560 किलोमीटर (348 मील) दक्षिण में स्थित बायोबियो के जंगलों में अधिक आग लगी है। सीबीसी न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार बायोबियो और पड़ोसी क्षेत्र न्यूबल के खेती और वन क्षेत्रों में तबाही की स्थिति घोषित कर दी गई है। तो वहीं सैनिकों और अतिरिक्त संसाधनों की तैनाती को बढ़ा दिया गया है। आंतरिक मंत्री कैरोलिना टोहा ने कहा कि जंगलों में लगी आग के कारण सैकड़ों घर क्षतिग्रस्त हो गए हैं जबकि देश भर में आग लगने की 39 घटनाएं हुई हैं। टोहा ने पत्रकारों से यह भी कहा है कि आने वाले दिनों में यहां की स्थितियां और अधिक जोखिम भरी होने वाली हैं। ब्राजील और अर्जेंटीना की मदद से 63 विमानों का बेड़ा आग बुझाने की मशक्कत में लगा है। चिली के राष्ट्रपति गेब्रियल बोरिक ने शुक्रवार को अपनी गर्मियों की छुट्टियों को कैंसल कर दिया है। वह न्यूबल और बायोबियो की यात्रा करेंगे। बता दें कि वहां कि कुल आबादी लगभग 2 मिलियन है। शुक्रवार को मौसम के पूर्वानुमान ने न्यूबल की राजधानी चिल्लन में 38 डिग्री सेल्सियस (100 डिग्री फ़ारेनहाइट) से अधिक तापमान रहने की भविष्यवाणी की है। चिली के जंगलों में लगी आग से सैकड़ों घर क्षतिग्रस्त या नष्ट हो गए हैं, लेकिन सटीक संख्या का अभी पता नहीं चल सका है। चिली की आपदा एजेंसी सेनाप्रेड के अनुसार, कुछ परिवारों ने आश्रयों में शरण मांगी है। आग ने राजमार्गों पर यातायात को बाधित कर दिया है। हादसे से बचने के लिए कई बस्तियों को खाली करा लिया गया है। जलवायु परिवर्तन के कारण ही जंगल की आग का दायरा, तीव्रता और आवृत्ति में वृद्धि हुई है क्योंकि बढ़ते तापमान और सूखे ने दुनिया भर में आग की स्थिति को बढ़ावा दिया है। इसी कराण चिली, अल्जीरिया, फ्रांस, स्पेन और पश्चिमी संयुक्त राज्य अमेरिका जैसे स्थानों में आग लगी है। दिसंबर के अंत में चिली के तटीय रिसॉर्ट शहर विनास डेल मार के पास एक जंगल की आग में कम से कम एक व्यक्ति की मौत हो गई और 100 से अधिक घर नष्ट हो गए थे।