Friday , April 12 2024
Home / Uncategorized / सिडकुल में प्लास्टिक पार्क बनकर तैयार, जानिये क्यों?

सिडकुल में प्लास्टिक पार्क बनकर तैयार, जानिये क्यों?

सिडकुल में प्लास्टिक पार्क 40 एकड़ में बना है। सड़क, बिजली और पेयजल सुविधा के कार्य पूरे हो चुके हैं। 34 करोड़ से पार्क तैयार किया गया है। 

सिडकुल की 40 एकड़ भूमि पर प्रस्तावित प्रदेश का एकमात्र प्लास्टिक पार्क बनकर तैयार है। दिल्ली की एमआईपीआईए के 35 सदस्यों समेत 37 उद्योगपतियों ने पार्क में उद्योग लगाने के लिए जमीन खरीद ली है। ये उद्योगपति खिलौने, पॉलीपैक्स व प्लास्टिक दाने से बनने वाले घरेलू उत्पादों के सूक्ष्म, लघु व मध्यम वर्ग के उद्योग लगाएंगे। इससे करीब 500 युवाओं के लिए रोजगार के द्वार खुलेंगे। 

रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय की ओर से देश भर में बनाए जाने वाले दस प्लास्टिक पार्क में से उत्तराखंड के औद्योगिक आस्थान सिडकुल में एक पार्क विकसित किया जा रहा है।

40 एकड़ में बना है पार्क 
प्लास्टिक पार्क 40 एकड़ में बना है। सड़क, बिजली और पेयजल सुविधा के कार्य पूरे हो चुके हैं। 34 करोड़ से पार्क तैयार किया गया है। सिडकुल अधिकारियों के मुतबिक शेष 33 करोड़ रुपयों से प्रशासनिक भवन, पांच से छह एकड़ भूमि पर उद्योगों को डिजाइन और टेस्टिंग में मदद के लिए सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ प्लास्टिक इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी का सेटअप भी लगाया जाएगा।

आने लगे हैं उद्योगपित 
प्लास्टिक पार्क बनकर तैयार हो गया है। उद्योगपतियों का आना शुरू हो गया है। 2024 में पार्क में उद्योगों का निर्माण भी शुरू हो जाएगा। -रविंद्र कुमार, क्षेत्रीय प्रबंधक, सिडकुल सितारगंज।

प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट फैसिलिटी भवन भी बनेगा
करीब एक एकड़ भूमि पर प्लास्टिक के उत्पादों के निर्माण में उपयुक्त होने वाले कच्चे माल के भंडारण के लिए वेयर हाउस, प्लास्टिक के कचरे के निस्तारण के लिए एक प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट फैसिलिटी भवन भी बनेगा। सिडकुल की ओर से पार्क में 80 उद्योग स्थापित करने का मसौदा तैयार किया गया है।