Wednesday , April 24 2024
Home / बाजार / कल से बदल रहे हैं एलपीजी, Social Media से जुड़े ये नियम

कल से बदल रहे हैं एलपीजी, Social Media से जुड़े ये नियम

जब भी कोई नया महीना शुरू होता है तो कई नियमों में भी बदलाव होता है। इन नियमों का आम जनता पर सीधा असर पड़ता है। कल से मार्च (March 2024) का महीना शुरू हो रहा है।

ऐसे में कल से कई नियम बदल जाएंगे। इन नियमों का आपके जेब पर सीधा असर पड़ेगा। चलिए, जानते हैं कि मार्च के महीने में कौन-से नियमों में बदलाव हो रहा है।

एलपीजी सिलेंडर के दाम

हर महीने की पहली तारीख को एलपीजी सिलेंडर की कीमतों (LPG Cylinder Price) में बदलाव होता है। कल भी इनकी कीमतों में बदलाव होगा। बता दें कि फरवरी के महीने में एलपीजी सिलेंडर की कीमतों में कोई बदलाव नहीं हुआ है। ऐसे में अब सबकी नजर एलपीजी सिलेंडर की नई कीमतों पर हैं।

वर्तमान में घरेलू एलपीजी सिलेंडर यानी 14.2 किलो सिलेंडर के दाम दिल्ली में 1053 रुपये है।

फास्टैग केवाईसी की आज है आखिरी डेट

अगर आप भी फास्टैग के जरिये टोल टैक्स देते हैं तो बता दें कि आज आपके पास आखिरी मौका है। नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) ने फास्टैग (Fastag) केवाईसी को अनिवार्य कर दिया है।

अगर कोई व्यक्ति 29 फरवरी 2024 तक फास्टैग केवाईसी (Fastag KYC) को अपडेट नहीं करते हैं तो कल से फास्टैग इनएक्टिव हो जाएगा।

अगर फास्टैग ब्लैकलिस्ट या डिएक्टिवेट हो जाता है तो आपको दोगुना टोल टैक्स का भुगतान करना होगा।

बैंक हॉलिडे लिस्ट

मार्च में होली (Holi), शिवरात्रि (Shivratri), गुड फ्राइडे (Good Friday) जैसे कई त्योहार है। ऐसे में इन मौकों पर बैंक बंद रहेंगे। आरबीआई (RBI) द्वारा जारी बैंक हॉलिडे लिस्ट (Bank Holiday March 2024) के अनुसार मार्च में 14 दिन बैंक बंद रहेंगे।

अगर आप भी किसी काम से बैंक जाने का सोच रहे हैं तो आपको एक बार बैंक हॉलिडे लिस्ट को जरूर चेक करना चाहिए। हालांकि, बैंक बंद होने के बाद भी कस्टमर को ऑनलाइन बैंकिंग जैसे कई सर्विस की सुविधा मिलती है।

सोशल मीडिया के नये नियम होंगे लागू
भारत सरकार ने आईटी (IT) नियमों में बदलाव किया है। आईटी के नए नियम कल से लागू हो जाएंगे। नए नियम के तहत अगर कोई व्यक्ति सोशल मीडिया जैसे एक्स (X), फेसबुक (Facebook), यूट्यूब (YouTube) और इस्टाग्राम (Instagram) पर गलत फैक्ट की कोई खबर डालता है तो उसे भारी जुर्माने का भुगतान करना पड़ सकता है। सरकार ने सोशल मीडिया को सुरक्षित करने के लिए यह फैसला लिया है।