Wednesday , May 29 2024
Home / खास ख़बर / लोकसभा चुनाव: 15 अप्रैल को बिहार में हुंकार भरेंगे सीएम योगी

लोकसभा चुनाव: 15 अप्रैल को बिहार में हुंकार भरेंगे सीएम योगी

इस बार नवादा लोकसभा से भाजपा के वरिष्ठ नेता डॉक्टर सीपी ठाकुर के बेटे राज्यसभा सांसद विवेक ठाकुर चुनावी मैदान में हैं। योगी आदित्यनाथ इनके लिए वोट मांगने आ रहे। वहीं राजद से उम्मीदवार श्रवण कुशवाहा हैं।

नवादा के अकबरपुर प्रखंड में 15 अप्रैल को भाजपा के फायर ब्रांड नेता और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ विशाल जनसभा को संबोधित करेंगे । इस जन सभा के माध्यम से यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नवादा लोकसभा क्षेत्र के जनता के साथ साथ आसपास के लोकसभा को साधने की कोशिश करेंगे। बुलडोजर बाबा के नाम से प्रसिद्ध योगी आदित्यनाथ अपने सख्त कानून व्यवस्था के लिए जाने जाते हैं। नवादा में योगी के काफी समर्थक हैं। उनकी चुनावी से ठीक तीन दिन पहले यानी 12 अप्रैल को नवादा के आईटीआई मैदान में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव और तेजस्वी यादव जनसभा को संबोधित करेंगे।

विवेक ठाकुर के वोट मांगने आ रहे योगी
इस बार नवादा लोकसभा से भाजपा के वरिष्ठ नेता डॉक्टर सीपी ठाकुर के बेटे राज्यसभा सांसद विवेक ठाकुर चुनावी मैदान में हैं। योगी आदित्यनाथ इनके लिए वोट मांगने आ रहे। वहीं राजद से उम्मीदवार श्रवण कुशवाहा हैं। इसबार लोकसभा चुनाव में लालू प्रसाद यादव ने नवादा लोकसभा सीट से श्रवण कुशवाहा को टिकट देकर कोयरी वोट अपने पाले में लाने की कोशिश की है। दूसरी तरफ नवादा के बाहुबली अशोक महतो की पत्नी कुमारी अनिता को मुंगेर लोकसभा सीट पर टिकट देकर कुर्मी जाति के वोट बैंक पर सेंधमारी का प्रयास किया गया।

पिछले 15 साल से एनडीए के खाते में नवादा सीट
बता दें कि नवादा लोकसभा क्षेत्र में भाजपा चार बार अपनी जीत दर्ज की है। पिछले चुनाव में नवादा सीट एनडीए के घटक दल लोजपा के खाते में दे दी गई थी, इसमें लोजपा से चंदन सिंह चुनाव जीते थे। इसबार भाजपा यह सीट फिर से भाजपा के खाते में आ गया है। 2009 में भाजपा से भोला सिंह और 2014 में फायर ब्रांड नेता गिरिराज सिंह, 2019 में लोजपा से चंदन सिंह चुनाव जीते थे। भाजपा इस सीट पर हरहाल में चुनाव जीतना चाहती है। भाजपा के उम्मीदवार के लिए यह सीट सुरक्षित रहा है।

पार्टी से इस्तीफा देकर निर्दलीय चुनाव लड़ रहे विनोद यादव
इधर, नवादा से राजद के प्रदेश महासचिव रहे विनोद यादव ने पार्टी से इस्तीफा देकर निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं। विनोद यादव को राजद के दो विधायकों का खुलकर समर्थन मिल रहा है। राजद के दो विधायकों के बगावती तेवर से श्रवण कुशवाहा की मुश्किलें बढ़ गई। बता दें कि निर्दलीय चुनाव लड़ रहे विनोद यादव पूर्व मंत्री राजब्ल्लभ प्रसाद यादव के भाई और राजद के नवादा विधायक विभा देवी के देवर हैं जबकि उनके एक भतीजे अशोक कुमार नवादा से विधान पार्षद हैं। विनोद यादव को इनके अलावे राजद विधायक प्रकाश वीर, जिला परिषद अध्यक्ष पुष्पा राजवंशी, जिला परिषद उपाध्यक्ष निशा चौधरी सहित कई जिला परिषद सदस्य और मुखिया का साथ मिल रहा है। ऐसे में नवादा लोकसभा सीट पर मुकाबला काफी दिलचस्प हो गया। इधर भोजपुरी और मगही गायक गुंजन सिंह पहली बार लोकसभा का चुनाव निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में लड़ रहे हैं जो कहीं न कहीं विवेक ठाकुर का ही वोट काटेंगे।