Saturday , June 22 2024
Home / MainSlide / भारत एक अरब अमरीकी डालर का ऋण देगा रूस के सुदूर पूर्व क्षेत्र के विकास के लिए-मोदी

भारत एक अरब अमरीकी डालर का ऋण देगा रूस के सुदूर पूर्व क्षेत्र के विकास के लिए-मोदी

व्‍लादिवोस्‍तोक(रूस)05 सितम्बर।प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रूस के सुदूर पूर्व क्षेत्र के विकास के लिए एक अरब अमरीकी डॉलर की ऋण सुविधा देने की घोषणा की है।

श्री मोदी ने पूर्वी आर्थिक मंच के पूर्ण सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि भारत ने अपनी एक्‍ट ईस्‍ट नीति में पूर्व एशिया पर सक्रियता से विचार किया है। आज की घोषणा से एक्‍ट फार ईस्‍ट नीति भी शुरू हो गई है।श्री मोदी ने यह भी कहा कि इस घोषणा से हमारी आर्थिक कूटनीति को नई दिशा मिलेगी।

उन्होने कहा कि..रूस के एनर्जी से लेकर के हेल्‍थ, एजुकेशन से लेकर के स्किल डेवलेपमेंट, माइनिंग से लेकर के टिम्‍बर अनेक क्षेत्रों में करीब 50 बिजनेस एग्रीमेंट हुए हैं। इनसे कई बिलियन डॉलर्स के व्‍यापार के निवेश की अपेक्षा है और इसके विकास में और योगदान देने के लिए भारत वन बिलियन डॉलर्स की लाइन ऑफ क्रेडिट देगा। यह पहला मौका है कि हम किसी देश के क्षेत्र विशेष को लाइन ऑफ क्रेडिट दे रहे हैं..।

श्री मोदी ने सबका साथ सबका विकास मंत्र पर नये भारत के दृष्टिकोण पर बल दिया। उन्‍होंने कहा कि भारत 2024 तक पांच ट्रिलियन अमरीकी डालर वाली अर्थव्‍यवस्‍था बन जायेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पूर्वी आर्थिक मंच से सुदूरपूर्व में मानवीय कल्‍याण के प्रयासों को बल तो मिलगा ही, साथ ही समूची मानवता को भी लाभ होगा। उन्‍होंने कहा कि भारत और सुदूरपूर्व का संबंध नया नहीं बल्कि सदियों पुराना है।भारत पहला देश है जिसने व्‍लादिवोस्‍तोक में वाणिज्‍य दूतावास स्‍थापित किया।