Thursday , June 13 2024
Home / MainSlide / केन्द्र की आयकर छापे के जरिए उनकी सरकार को अस्थिर करने की कोशिश- भूपेश

केन्द्र की आयकर छापे के जरिए उनकी सरकार को अस्थिर करने की कोशिश- भूपेश

रायपुर 28 फरवरी।छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राज्य में कल से चल रही आयकर छापे की कार्रवाई को राजनीतिक विद्धेष करार देते हुए आरोप लगाया कि आयकर छापे के जरिए उनकी सरकार को अस्थिर करने की कोशिश की गई है।

श्री बघेल ने आज देऱ शाम मंत्रिपरिषद के सदस्यों के साथ राजभवन पहुंचकर राज्यपाल अनुसुईया उइके को अपने सचिवालय की उप सचिव एवं ओएसडी समेत अन्य के यहां चल रहे आयकर छापे सम्बन्धी ज्ञापन दिया,और बाद में पत्रकारों से कहा कि तीन चौथाई बहुमत से सत्ता में आई कांग्रेस सरकार को विद्धेष पूर्वक अस्थिर करने की कोशिश इन छापों के जरिए हो रही है।राज्य में भय का माहौल बना जा रहा है,रात में गाडियां घूम रही है,और राज्य सरकार या फिर सम्बधित जिलों के पुलिस अधीक्षकों को भी कोई सूचना नही दी गई है।

उन्होने कहा कि पूर्व में भी आयकर छापे की कार्रवाई हुई है और राज्य सरकार ने कभी मना नही किया।उस समय सम्बधित जिलों के पुलिस अधीक्षकों को भी सूचना दी गई।उन्होने कहा कि यह पूरी तरह से राजनीतिक बदले की कार्रवाई है।उनसे पूर्व उनके साथ मौजूद संसदीय कार्य मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा कि राज्यपाल ने उनके ज्ञापन पर राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री से बात करने का भरोसा दिया है।

श्री चौबे ने कहा कि इन छापों के जरिए दहशत का माहौल बनाया जा रहा है।आर्म्स फोर्स लेकर राज्य के मुख्य सचिव एवं पुलिस महानिदेशक को सूचित किए बगैर कल से हो रही छापे की कार्रवाई संघीय व्यवस्था का खुला उल्लंघन है।मुख्यमंत्री सचिवालय की महिला उप सचिव के घर की ताला तोड़कर छापे की कार्रवाई बदले की कार्रवाई है।उन्होने कहा कि भी राज्यपाल से मुलाकात की गई है आगे कानूनी सहित सभी तरीके से इसके विरोध की रणनीति तय होंगी।