Monday , June 17 2024
Home / MainSlide / खाद्य तेलों के आयात शुल्क में कमी

खाद्य तेलों के आयात शुल्क में कमी

नई दिल्ली 11 सितम्बर। खाद्य तेलों की कीमतों में हो रही लगातार इजाफे से आलोचना का सामना कर रही केन्द्र सरकार ने क्रूड पाम, सोयाबीन और सूरजमुखी तेल पर मानक दर कम कर 2.5 प्रतिशत कर दी है। रिफाइंड पाम, सोयाबीन और सूरजमुखी तेल पर शुल्क की मानक दर घटा कर 32.5 प्रतिशत कर दी गई है। नई दरें आज से प्रभावी हो गई हैं।

सरकार ने कच्चे पाम तेल पर कृषि उपकर 17.5 प्रतिशत से बढ़ा कर 20 प्रतिशत कर दिया है। वर्ष 2021-22 के दौरान अंतर्राष्ट्रीय और घरेलू स्तर पर खाद्य तेलों के दाम ऊंचे रहे हैं जो मुद्रास्फीति और उपभोक्ता के संदर्भ में चिंताजनक हैं।

खाद्य तेलों पर आयात शुल्क एक महत्वपूर्ण कारक है जिसका खाद्य तेलों की कीमतों पर प्रभाव पड़ता है। बढ़ती कीमतों के प्रभाव से निपटने के लिए इस वर्ष फरवरी से अगस्त तक कई कदम उठाए गए हैं।