Sunday , May 19 2024
Home / देश-विदेश / अरविंद केजरीवाल की बढ़ सकती है मुश्किलें, पढ़े पूरी ख़बर

अरविंद केजरीवाल की बढ़ सकती है मुश्किलें, पढ़े पूरी ख़बर

दिल्ली में 8 साल से सत्ता चला रहे आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल पिछले कुछ समय से एक के बाद एक मुसीबतों में घिरते जा रहे हैं। महज 10 साल के राजनीतिक सफर में दिल्ली, पंजाब, गुजरात से गोवा तक की विधानसभा में दस्तक दे चुकी पार्टी को अपने सबसे मजबूत गढ़ में अचानक कई चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। मंत्री को जेल, घोटालों का शोर, जासूसी के आरोप, एलजी से टकराव समेत कई मोर्चों पर सरकार के लिए परेशानी बढ़ गई है। इससे ना सिर्फ सरकार की छवि पर असर पड़ा है बल्कि पार्टी के विस्तार प्लान में भी अड़चनें पड़ती दिख रही हैं।
जेल से निकल नहीं पा रहे मंत्री, ऊपर से विवाद  दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री और अरविंद केजरीवा के बेहद करीबी कहे जाने वाले सत्येंद्र जैन पिछले साल मई से ही जेल में बंद हैं। मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों के बाद प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की ओर से गिरफ्तार किए गए सत्येंद्र जैन को अभी तक जमानत नहीं मिल पाई है। ना सिर्फ स्वास्थ्य मंत्री के जेल जाने से सरकार की छवि धूमिल हुई,बल्कि तिहाड़ से निकले जैन के मसाज वीडियो ने भी किरकिरी कराई। जेल में बंद अपने मंत्री के लिए भारत रत्न की मांग करते हुए केजरीवाल ने उनका भरसक बचाव किया तो महाठग सुकेश चंद्रशेखर ने जैन पर वसूली के आरोप जड़ दिए। भाजपा ने जैन के मुद्दे पर केजरीवाल सरकार की जमकर घेराबंदी की। एक के बाद एक घोटालों के आरोप भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन की कोख से जन्मी आम आदमी पार्टी ‘कट्टर ईमानदारी’ के दावे करती रही है। लेकिन पिछले कुछ समय में दिल्ली सरकार पर कई घाटोलों के आरोप लगे हैं। क्लासरूम निर्माण,बस खरीद में गड़बड़ी के आरोप लगे तो कथित शराब घोटाले के दाग धोने में पार्टी को कड़ी मेहनत करनी पड़ रही है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और पार्टी के दूसरे सबसे बड़े नेता मनीष सिसोदिया को भी आरोपी बनाया गया है। पार्टी से जुड़े विजय नायर को गिरफ्तार किया जा चुका है तो हाल ही में ईडी की ओर से दायर चार्जशीट में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का भी नाम लिया गया है। राजनीतिक जानकारों की मानें तो एक के बाद एक घोटाले के आरोपों से पार्टी की छवि प्रभावित हुई है।