Sunday , May 19 2024
Home / देश-विदेश / आएये जानते है तमिलनाडु में किस वजह से भाजपा ने की भूख हड़ताल और निकाला कैंडल मार्च…

आएये जानते है तमिलनाडु में किस वजह से भाजपा ने की भूख हड़ताल और निकाला कैंडल मार्च…

तमिलनाडु में सेना के जवान की हत्या का मामला तूल पकड़ रहा है। आरोप है कि डीएमके के पदाधिकारी चिन्नास्वामी ने कई अन्य लोगों के साथ मिलकर प्रभू की पीट-पीटकर हत्या कर दी। मंगलवार को भाजपा की तमिलनाडु इकाई ने सैनिक की हत्या के विरोध में कैंडल मार्च निकाला और एक दिन की भूख हड़ताल की। बड़ी संख्या में लोग इस भूख हड़ताल में शामिल हुए थे। तमिलनाडु इकाई के भाजपा चीफ अन्नामलाई ने इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर ट्वीट की हैं।
पूर्व सैनिक भी हुए शामिल इस प्रदर्शन में कई पूर्व सैनिक भी शामिल हुए। अन्नामलाई में इस कार्यक्रम में कहा कि भाजपा जवान के दोनों बच्चों की पढ़ाई का खर्च वहन करेगी। इसके अलावा उन्होंने कहा कि राज्य सरकार मृत की पत्नी को सरकारी नौकरी, पांच करोड़ रुपये दे। इसके साथ ही सीएम एमके स्टालिन इस कृत्य के लिए माफी मांगें। उन्होंने कहा कि पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार करने में एक सप्ताह का समय लगा दिया। अब भी सरकार इस मामले में चुप्पी साधे हुए है। तमिलनाडु की मौजूदा सरकार सैनिक विरोधी है और वह न्याय करना नहीं जानती है। इस प्रदर्शन में शामिल हुए एक रिटायर्ड वायुसेना अधिकारी ने कहा कि इस तरह की घटना देश में अब तक नहीं हुई थी। उन्होंने कहा कि हमला करने वालों को इतनी कड़ी सजा मिलनी चाहिए कि कोई इस तरह का काम करने के बारे में सोचे भी ना। क्या है मामला पुलिस का कहना है कि 8 फरवरी को लांस नायक एम प्रभु (29 साल) पर घात लगाकर हमला किया गया था. इसमें डीएमके पदाधिकारी चिन्नास्वामी के अलावा आठ अन्य लोग भी शामिल थे। प्रभु बुरी तरह से घायल हो गए थे। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 15 फरवरी को उनकी मौत हो गई। प्रभु और उनके भाई प्रभाकरण का पोचमपल्ली के चिन्नास्वामी के साथ पानी की टंकी पर कपड़े धोने को लेकर झगड़ा हो गया था। पुलिस ने हत्या का केस दर्ज किया है। प्रभाकरण का भी अस्पताल में इलाज चल रहा है। प्रभु इन दिनों छुट्टी पर अपने गांव आए थे। 10 फरवरी को वह वापस श्रीनगर जाने वाले थे लेकिन इससे पहले यह घटना हो गई।