Thursday , May 23 2024
Home / MainSlide / विपक्ष के पुलिस पर विधानसभा पहुंचने में बाधा पैदा करने के आरोप पर नोकझोक

विपक्ष के पुलिस पर विधानसभा पहुंचने में बाधा पैदा करने के आरोप पर नोकझोक

रायपुर 15 मार्च।छत्तीसगढ़ विधानसभा में आज भाजपा एवं बसपा के विधायकों ने पुलिस पर विधानसभा पहुंचने में बाधा पैदा करने का आरोप लगाया। इसे लेकर पक्ष एवं विपक्ष के सदस्यों में तीखी नोकझोक भी हुई।

भाजपा सदस्य शिवरतन शर्मा ने प्रश्नोत्तरकाल में सदन में यह मामला उठाते हुए कहा कि पुलिस विधानसभा आ रहे विधायकों को रोक रही है। उन्हे 10 किलोमीटर घूम कर आना पड़ा है। भाजपा सदस्य रंजना दीपेन्द्र साहू बसपा विधायक केशवचन्द्रा एवं इंदू बजारे ने पुलिस के रवैये की आलोचना की और कहा कि उन्हे विधानसभा आने से रोका गया। सत्ता पक्ष के विधायकों ने इसे गलत बताया और कहा कि वह भी सदन में आए है,उन्हे किसी ने नही रोका।

अध्यक्ष डा.चरणदास महंत ने इस पर संसदीय कार्य मंत्री रविन्द्र चौबे से सरकार का पक्ष रखने को कहा।श्री चौबे ने कहा कि भाजपा के आन्दोलन के मद्देनजर पुलिस ने विधानसभा की सुरक्षा के लिए बेरीकेटिंग की है,लेकिन विधायकों को वहां नही रोका जा रहा है। जनता कांग्रेस के धर्मजीत सिंह ने कहा कि जब इस तरह के आन्दोलन होते है तो पुलिस रोड डायवर्ड प्लान जारी करती है,उसकी जानकारी सदस्यों की मिलनी चाहिए थी। इसी दौरान सत्ता पक्ष एवं विपक्षी सदस्यों में चल रही नोकझोक में किसी कथन को लेकर भाजपा सदस्य रंजना दीपेन्द्र साहू बहुत उत्तेजित हो गई और बेल की तरफ बढ़ी तो वरिष्ठ सदस्यों ने उन्हे सीट पर वापस किया।

अध्य़क्ष डा.महंत ने कहा कि किसी भी सदस्य को विधानसभा आने से नही रोका जा सकता है। गृह मंत्री ने इस पर कहा कि पुलिस को सामान्य निर्देश है कि विधायकों को सदन पहुंचने में कोई समस्या नही हो। फिर भी इस मामले को दिखवा लेंगे। इस दौरान भी जब दोनो पक्षों के सदस्यों में कहासुनी जारी रही तो अध्यक्ष ने कड़ी नाराजगी व्यक्त की और कहा कि विधानसभा को मजाक नही बनाईये।