Saturday , July 20 2024
Home / Uncategorized / मेरठ: पुलिस की मौजूदगी में मवी में एक साथ जलीं पति-पत्नी की चिताएं, पढ़िये पूरा मामला

मेरठ: पुलिस की मौजूदगी में मवी में एक साथ जलीं पति-पत्नी की चिताएं, पढ़िये पूरा मामला

मेरठ के परीक्षितगढ़ में श्मशान मार्ग पर जंगल में पत्नी प्रिया की हत्या कर सूरज के आत्महत्या करने के मामले में सोमवार को मवी गांव में गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार किया गया। दोनों की चिताएं एक साथ जलीं। इस दौरान पुलिस भी मौजूद रही। इस मामले में पुलिस सूरज के मोबाइल की कॉल डिटेल भी खंगाल रही है। पुलिस की जांच में अब तक यही स्पष्ट हुआ है कि मानसिक रूप से परेशान सूरज ने पत्नी की हत्या कर खुदकुशी की।

श्मशान मार्ग पर अमरूद के पेड पर मफलर के फंदे से पति का शव लटका मिला था। पास में उसकी पत्नी प्रिया के शव पड़ा था। उसके सिर में चोट के निशान थे। सूचना पर एसपी देहात कमलेश बहादुर, सीओ सदर देहात के साथ फोरेंसिक टीम ने पहुंचकर साक्ष्य जुटाए थे।

ससुराल एवं मायके पक्ष के लोग एक-दूसरे पर हत्या करने का आरोप लगाते रहे। हालांकि पुलिस का मानना है कि पत्नी की हत्या कर आत्महत्या की गई थी। सोमवार को पोस्टमार्टम के बाद दंपती के शव घर पहुंचे तो परिजनों में चीख-पुकार मच गई। परिवार को रोता बिलखता देख ग्रामीणों की आंखें भी नम हो गईं।

इस दौरान मायके पक्ष के लोग ससुराल पक्ष पर हत्या का आरोप लगाते हुए हंगामा करने लगे। गांव के गणमान्य लोगों के समझाने पर ही प्रिया के अंतिम संस्कार के लिए माने। बाद में दोनों के शवों का गांव के ही श्मशान में अंतिम संस्कार कर दिया गया। सीओ प्रमोद कुमार सिंह का कहना है कि अवैध संबंध या अन्य कोई मामला सामने नहीं आया है। फिर भी पुलिस कुछ बिंदुओं पर जांच की जा रही है।

आखिर सुनसान जगह कैसे पहुंचे
सूरज अपने पिता गजेंद्र को पत्नी प्रिया को दवा दिलवाने की बात कहकर बाइक पर घर से गया था, लेकिन जिस सुनसान रास्ते में दोनों के शव मिले हैं, उस रास्ते पर किसान या फिर अंतिम संस्कार के लिए लोग पहुंचते हैं। कुछ ग्रामीण सवाल उठाते रहे कि दोनों ऐसे सुनसान रास्ते पर कैसे पहुंचे।

ग्रामीणों ने परिजनों को संभाला
सूरज और उसकी पत्नी प्रिया की चिताएं एक साथ जलतीं देखकर परिवार के साथ ग्रामीणों की आंखें भी नम हो गईं। इस दौरान बिलखते हुए परिजनों को ग्रामीण संभालते रहे।