Saturday , March 2 2024
Home / खास ख़बर / दिल्ली: बाजारों में इलेक्ट्रिक मशीनों से होगी सफाई

दिल्ली: बाजारों में इलेक्ट्रिक मशीनों से होगी सफाई

दिल्ली के बाजारों में इलेक्ट्रिक मशीनों से सफाई के लिए एक पायलट प्रोजेक्ट की शुरुआत की शुरुआत हो रही है। आज निगम मुख्यालय से हरी झंडी दिखाकर मेयर रवाना करेंगी।

बाजारों की अब इलेक्ट्रिक मशीनों से सफाई होगी। मंगलवार से पायलट प्रोजेक्ट की शुरुआत होगी। निगम मुख्यालय सिविक सेंटर से मेयर डॉ. शैली ओबरॉय इन बैटरी से संचालित आठ मशीनों को हरी झंडी दिखाकर सुबह 10 बजे रवाना करेंगी। पायलट प्रोजेक्ट के सफल होने पर पूरी दिल्ली के बाजारों की सफाई इलेक्ट्रिक मशीनों के जरिए होगी।

मेयर डॉ. शैली ओबरॉय ने बताया कि ये सक्शन मशीनें बिना धूल उड़ाए कचरा खींच लेती हैं। ये पर्यावरण के अनुकूल हैं, क्योंकि ये बैटरी से संचालित होती हैं, इनसे ध्वनि प्रदूषण नहीं होगा। मशीन में बिन कंटेनर है, जिसका वॉल्यूम 240 लीटर है और 200 एएच (लिथियम-आयन) की मजबूत बैटरी क्षमता है। इन मशीनों में उच्च परिचालन दक्षता है। बैटरी का बैकअप का 8 से 10 घंटे का है, जो बिना किसी रुकावट के लंबे समय तक उपयोग और उत्पादकता बढ़ाता है। इसके अलावा बाजारों की निर्बाध सफाई को सक्षम बनाता है।

एक दिन में दो बार होगी सफाई : बाजारों की एक दिन में दो बार सफाई होगी। बाजारों में भारी भीड़ होने के चलते तेजी से गंदगी फैलती है। निगम की सुबह और दोपहर में सफाई करवाने की योजना है। आम आदमी पार्टी की सरकार ने अपने पहले बजट में इसकी घोषणा की थी।

डाटा एंट्री ऑपरेटरों ने एलओपी से की मुलाकात
नई दिल्ली। एमसीडी में नेता विपक्ष (एलओपी) व पूर्व मेयर राजा इकबाल सिंह से सोमवार को निगम में कार्यरत डाटा एंट्री ऑपरेटरों ने अपनी विभिन्न मांगों को लेकर मुलाकात की। इन ऑपरेटरों ने बताया कि इन्हें 45 दिन का अनुबंध देकर इनका शोषण हो रहा। अनुबंधित कंपनी को दो बार अनुबंध बदला गया है, जिसके कारण परेशानी झेलनी पड़ रही है। नेता विपक्ष ने बताया कि अपनी मांगो को लेकर 896 डाटा एंट्री ऑपरेटर मंगलवार से निगम मुख्यालय पर धरना प्रदर्शन करेंगे। भाजपा इनका समर्थन करेगी।