Sunday , April 21 2024
Home / देश-विदेश / तमिलनाडु में कांग्रेस और द्रमुक पर बरसे पीएम मोदी

तमिलनाडु में कांग्रेस और द्रमुक पर बरसे पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तमिलनाडु के थूथुकुडी में 17,000 करोड़ से अधिक की परियोजनाओं की सौगात दी। इस दौरान पीएम ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि सत्य कड़वा होता है, लेकिन सत्य जरूरी भी होता है। जो प्रोजेक्ट्स मैं आज लेकर आया हूं, ये दशकों से यहां के लोगों की मांग थी।

पीएम मोदी ने कांग्रेस पर बोला हमला
दरअसल, पीएम मोदी ने हरित नौका पहल के तहत भारत के पहले स्वदेशी हरित हाइड्रोजन ईंधन सेल अंतर्देशीय जलमार्ग जहाज को हरी झंडी दिखाई। इस दौरान उन्होंने कहा कि मुझे तमिलनाडु और देश की जनता को एक सत्य बताना जरूरी है, सत्य कड़वा होता है। मैं सीधा आरोप UPA सरकार पर लगाना चाहता हूं। यह परियोजनाएं जो मैं आज लेकर आया हूं वह दशकों से यहां के लोगों की मांग थी। आज जो यहां सत्ता में बैठे हैं वे लोग तब दिल्ली में बैठे थे, सरकार और यह विभाग चलाते थे लेकिन उन्हें आपके विकास की फिक्र नहीं थी।

‘तमिलनाडु की बात करने वालों को नहीं यहां की कोई चिंता’
उन्होंने कहा कि वह बातें तमिलनाडु की करते हैं, लेकिन तमिलनाडु की भलाई के लिए कदम उठाने की हिम्मत नहीं थी। आज मैं तमिलनाडु की धरती पर इस राज्य का भाग्य लिखने के लिए एक सेवक बनकर आया हूं। जो लोग आज राज्य की सत्ता में हैं, उन्हें अतीत में केंद्र में सरकार रहने के बावजूद तमिलों के कल्याण की कोई चिंता नहीं थी।

पीएम मोदी ने किया लाइटहाउस का जिक्र
पीएम मोदी ने कहा- ‘मैंने एक बार मन की बात कार्यक्रम में कहा था कि देश के प्रमुख लाइटहाउस को पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित किया जा सकता है। आज मुझे देश के अलग-अलग राज्यों में स्थित 75 लाइटहाउस में विकसित की गई पर्यटन सुविधाओं को देश को समर्पित करने का सौभाग्य मिला है। यह नया भारत है।’

उन्होंने बताया कि आज भारत की पहली हाइड्रोजन ईंधन फेरी को लॉन्च किया गया है। यह फेरी जल्द ही काशी में गंगा नदी में चलेगी, यह एक तरह से तमिलनाडु के लोगों का काशी के लोगों को बहुत बड़ा उपहार है।

‘भारत के रोडमैप का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं यह परियोजनाएं’
पीएम मोदी ने कहा कि आज तमिलनाडु थूथुकुडी में प्रगति का नया अध्याय लिख रहा है। कई परियोजनाओं का उद्घाटन या शिलान्यास किया जा रहा है। यह परियोजनाएं विकसित भारत के रोडमैप का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। इन परियोजनाओं में ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ की भावना भी देखने को मिलेगी।