Friday , April 12 2024
Home / जीवनशैली / डायबिटीज कंट्रोल करने में मददगार है आंवला

डायबिटीज कंट्रोल करने में मददगार है आंवला

डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है जिसका कोई इलाज तो नहीं है लेकिन इसे नियंत्रित किया जा सकता है। शरीर में इंसुलिन की कमी या सही मात्रा में रिलीज न होने की वजह से डायबिटीज की बीमारी होती है। हेल्दी डाइट इसे नियंत्रित करने में अहम भूमिका निभाते हैं। आंवला डायबिटीज के मरीजों के लिए लाभदायक हो सकता है। जानें आंवला को किन अलग-अलग तरीकों से खा सकते हैं।

डायबिटीज के बढ़ते मामलों के कारण भारत को डायबिटीज कैपिटल भी कहा जाता है। यह एक ऐसी बीमारी है, जिसमें व्यक्ति के शरीर में इंसुलिन का सही तरीके से इस्तेमाल नहीं हो पाता है या वह जरूरत से कम मात्रा में रिलीज होता है। इस वजह से, ब्लड में शुगर की मात्रा बढ़ने लगती है।

ऐसे में पोषक तत्वों से भरपूर आंवला एक ऐसा फल है, जिसमें विटामिन-सी, फाइबर, फॉलेट, फॉस्फोरस, कार्ब्स, मैग्नीशियम, कैल्शियम, आयरन और एंटी ऑक्सीडेंट जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होने के कारण डायबिटीज के मरीजों को लिए काफी लाभदायक साबित हो सकता है।

यह हमारे शरीर को कई तरह से पोषण देकर स्वस्थ बनाए रखने में सहायक होता है। आंवला खाने से सेहत से जुड़े कई फायदे मिलते हैं, जिसमें ब्लड शुगर लेवल को मेंटेन रखने में काफी मदद मिलती है। आइए जानते हैं, ब्लड शुगर लेवल को मेंटेन रखने के लिए आंवला खाने के 5 तरीके।

आंवला पाउडर के रुप में

आंवले को सुखाकर, इसका पाउडर तैयार किया जाता है। इस पाउडर को आप स्मूदी, दही या फिर दलिया के साथ मिक्स करके खा सकतें हैं। यह अपनी पौष्टिकता के कारण सेहत के लिए गुणकारी साबित होता है।

आंवले का जूस
कच्चे आंवले को पीसकर इसके रस को निकालकर, इसमें हल्का काला नमक मिक्स कर सुबह खाली पेट इसका सेवन करना लाभकारी होता है। इससे ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित रखने में मदद मिलती है।

आंवले का अचार
कच्चे आंवले को हल्के भाप में पका कर इसमें लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर, सरसों, सौंफ, जीरा, कलौंजी, अजवाइन जैसे मसालों से मैरिनेट करें और इसमें स्वादानुसार नमक डालकर अच्छे से मिक्स करके अचार तैयार करें। यह खाने में जायका लाने के साथ-साथ ब्लड शुगर लेवल को मेंटेन रखने में मदद करता है।

आंवले की चटनी
उबले हुए आंवले में हरी मिर्च, लहसुन, अदरक, और पुदीनों की पत्तियों और स्वादानुसार नमक डालकर, इन्हें पीसकर इसकी चटनी तैयार करें। इसे अपने दिन के किसी भी समय के भोजन खाने के साथ आराम से खा सकतें। यह पाचन के लिए भी काफी फायदेमंद होता है।

आंवले का सलाद
कद्दूकस किए हुए आंवले को गाजर, चुकंदर,खीरा, मूली अदरक और कुछ हरी पत्तेदार सब्जियों के साथ सलाद में मिक्स करके तैयार करें। यह खाने का स्वाद और बढ़ा देगा।