Thursday , May 23 2024
Home / MainSlide / भूपेश के 60 दिन के काम पर वोट मांगने पर भाजपा को पीड़ा क्यों- शुक्ला

भूपेश के 60 दिन के काम पर वोट मांगने पर भाजपा को पीड़ा क्यों- शुक्ला

रायपुर 21अप्रैल।छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और कांग्रेस के अपने सरकार के तीन महीनों के जनहित के कार्यो पर वोट मांगने पर सवाल उठाने के लिए भाजपा की कड़ी निन्दा की है।

प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने आज यहां जारी बयान में कहा कि भाजपा में इतना साहस नहीं है कि वह अपनी केन्द्र सरकार के 60 महीनों की कोई उपलब्धि जनता को बता सके। भाजपा की मोदी सरकार ने पांच साल में कुछ ऐसा किया ही नहीं जो जनता को बता कर वोट अपील कर सकें। मोदी सरकार के खाते में वायदा खिलाफी और असफलता की लंबी फेहरिस्त है। इसीलिये पूरी भारतीय जनता पार्टी जनहित के मुद्दों को दफनाने में लगी है। भाजपा नेता, हर के खाते में 15 लाख आने के वायदे का जिक्र करने में डरते है।

उन्होने कहा कि हर साल दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने के वायदे में भी मोदी सरकार विफल हुई। महंगाई कम करने का वायदा भी जुमला साबित हुआ, जो रसोई गैस कांग्रेस के मनमोहन सिंह सरकार के समय 400 रू. मिलता था मोदी सरकार में 1000 रू. प्रति सिलेंडर हो गया। पेट्रोल-डीजल के दाम आसमान छू रहे है।किसानों को लागत में 50 फीसदी मुनाफा जोड़ कर समर्थन मूल्य नहीं दे पाये। नोटबंदी और जीएसटी जैसी आपदा देश पर थोपकर मोदी सरकार ने देश की अर्थव्यवस्था और व्यापार व्यवसाय को चौपट कर दिया। हजारों उद्योग बंद होने के कारण देशभर में लाखों लोगों के रोजगार चले गये।

श्री शुक्ला ने कहा कि मुख्यमंत्री बघेल यदि मतदाताओं से अपने 60 दिन के कार्यो को कसौटी पर परखने का अनुरोध कर मत देने का अपील कर रहे हैं, तो यह उनका अपने द्वारा किये गये कार्यो के प्रति आत्मविश्वास है।