Tuesday , May 28 2024
Home / MainSlide / सभी को रियायती खाद्यान्न देने के लिए बनेंगा हर परिवार का राशन कार्ड- भूपेश

सभी को रियायती खाद्यान्न देने के लिए बनेंगा हर परिवार का राशन कार्ड- भूपेश

रायपुर 19 जून।छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि गांधी जयन्ती से राज्य में शुरू हो रही सार्वभौम सार्वजनिक वितरण प्रणाली के लिए हर परिवार का राशनकार्ड बनाया जाएगा।

श्री बघेल ने आज यहां खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति तथा उपभोक्ता संरक्षण विभाग की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को निर्देशित किया कि राशनकार्ड बनाने में किसी हाल में गड़बड़ी न हो और राशनकार्ड फर्जी नहीं बने, इस बात को सुनिश्चित किया जाए।उन्होने कहा कि अब प्राथमिकता राशनकार्ड में एक सदस्य होने पर 10 किलोग्राम चावल, दो सदस्य होने पर 20 किलो चावल और 3 से 5 सदस्य होने पर 35 किलो चावल प्रति माह प्रदाय किया जाएगा।

उन्होने कहा कि परिवार में पांच से अधिक सदस्य होने पर प्रति यूनिट की दर से सात-सात किलो चावल अतिरिक्त प्रदाय किया जाएगा। इसी तरह एपीएल राशनकार्ड धारियों को एक सदस्य होने पर प्रतिमाह 10 किलोग्राम चावल, दो सदस्य होने पर 20 किलो चावल और 3 या 3 से अधिक सदस्य होने पर 35 किलो चावल प्रदाय किया जाएगा। यह चावल दस रूपए प्रति किलोग्राम की दर से प्रदाय किया जाएगा। इसी तरह निराश्रित एवं निशक्तजनों को हर माह दस-दस किलो चावल निशुल्क मिलता रहेगा।

मुख्यमंत्री ने राज्य के अनुसूचित और गैर अनुसूचित क्षेत्र में विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रो में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के माध्यम से मिट्टी तेल के वितरण पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि अभी भी ग्रामीण क्षेत्रों में मिट्टी तेल की काफी मांग है जिसकी भरपाई किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि राशन सामग्री आबंटित होने के बाद समय-सीमा के भीतर राशन दुकानों तक पहुंचे और उसका वितरण भी पूर्ण किया जाए। उन्होंने इस प्रकिया पर कडा़ई से नजर रखने के निर्देश दिए जिससे किसी प्रकार का विलम्ब न हो।

खाद्य मंत्री मोहम्मद अकबर ने बताया कि केन्द्र शासन से अन्त्योदय कार्ड की निर्धारित सीमा बढ़ाने राज्य के मिट्टी तेल का आबंटन बढ़ाने का अनुरोध किया गया है।उन्होंने कहा कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली के माध्यम से गुड़ वितरण के विकल्प पर भी विचार करने की जरूरत है। इससे गन्ना उत्पादन करने वाले जिलों के किसानों को लाभ मिलेगा।