Saturday , June 22 2024
Home / MainSlide / क़ानूनी जागरूकता पर आधारित चार दिवसीय शॉर्ट फ़िल्म फ़ेस्टिवल शुरू

क़ानूनी जागरूकता पर आधारित चार दिवसीय शॉर्ट फ़िल्म फ़ेस्टिवल शुरू

रायपुर 09 नवम्बर।राष्ट्रीय विधिक़ सेवा दिवस पर “पैन इंडिया अवरनेस एंड आउट्रीच प्रोग्राम के अंतर्गत राज्य विधिक़ सेवा प्राधिकरण एवं जी पी आर एस एस रायपुर के तकनीकी सहयोग से क़ानूनी जागरूकता पर आधारित चार दिवसीय शॉर्ट फ़िल्म फ़ेस्टिवल आज यहां शुरू हो गया।

उच्चतम न्यायालय के मुख्य न्यायधीश एन वी रमन्ना एवं राष्ट्रीय विधिक़ सेवा प्राधिकरण के कार्यवाहक अध्यक्ष उदय उमेश ललित द्वारा शॉर्ट फ़िल्म फ़ेस्टिवल का शुभारंभ वर्चुअल किया गया।इस कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायधीश अरूप कुमार गोस्वामी द्वारा शॉर्ट फ़िल्म फ़ेस्टिवल की संक्षिप्त जानकारी दी गयी। छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय एवं कार्यपालक अध्यक्ष राज्य विधिक़ सेवा प्राधिकरण न्यायमूर्ति गौतम भादुड़ी तथा उच्च न्यायालय के अन्य न्यायमूर्ति उपस्थिति थे।

शुभारंभ समारोह के उपरांत “ मिस्टर ब्लैक हैट ” साइबर क्राइम पर आधारित शॉर्ट फ़िल्म का प्रसारण किया गया तथा विधिक़ छात्रों द्वारा “ भरत नाट्यम ” नालसा की थीम गाने पर सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति दी गयी।शॉर्टफ़िल्म फ़ेस्टिवल के उदघाटन समारोह का प्रसारण यूटूब के चैनल NALSA  (नालसा) राष्ट्रीय विधिक़ सेवा प्राधिकरण द्वारा एन.आई.सी. एवं छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय द्वारा “जन चेतना ” चैनल में किया गया।

शॉर्टफ़िल्म फ़ेस्टिवल में कुल 03 फ़िल्मों का प्रदर्शन किया गया जिनमें से 02 सुपर शॉर्ट फ़िल्में “ थिंक कलेक्टिव्ली ” जो कि नशे की लत पर आधारित थी एवं दूसरी स्टेप आउट ” जो कि महिलाओ को प्रताड़ना / छेड़छाड़ पर आधारित थी। फ़ेस्टिवल 12 नवंबर तक चलेगा और इसमें प्रवेश निःशुल्क हैं।