Wednesday , July 24 2024
Home / MainSlide / समर्थन मूल्य पर रिकार्ड 97.97 लाख मीट्रिक टन धान की हुई खरीद

समर्थन मूल्य पर रिकार्ड 97.97 लाख मीट्रिक टन धान की हुई खरीद

रायपुर, 08 फरवरी।छत्तीसगढ़ में धान खरीद के कल सम्पन्न हुए अभियान में इस साल किसानों से समर्थन मूल्य पर 97 लाख 97 हजार 122 मीट्रिक टन धान की रिकार्ड खरीद हुई।

इस सीजन में राज्य में गत एक दिसम्बर से शुरू धान खरीद का महाअभियान कल 07 फरवरी को सम्पन्न हो गया। इस साल 21,77,283 किसानों ने समर्थन मूल्य पर अपना धान बेचा है, जो बीते वर्ष धान बेचने वाले 20,53,600 किसानों की संख्या से 1,23,683 अधिक है। बारदाना संकट और जनवरी माह में बेमौसम बारिश के बावजूद भी राज्य में किसानों से बिना किसी व्यवधान रिकार्ड धान खरीद होना एक उपलब्धि है।

राज्य में धान खरीद के लिए एक दिसम्बर से 31 जनवरी की अवधि तय की गई थी लेकिन बेमौसम बारिश की वजह से धान न बेच पाने वाले किसानों को धान बेचने का मौका दिए जाने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल धान खरीद की निर्धारित अवधि में एक सप्ताह का इजाफा कर इसे सात फरवरी तक कर दिया था।

इस साल खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 में धान बेचने के लिए कुल 24,06,560 किसानों ने पंजीयन कराया था, जिनके द्वारा बोए गए धान का रकबा 30 लाख 10 हजार 880 हेक्टेयर है। जबकि गत वर्ष पंजीकृत धान का रकबा 27 लाख 92 हजार 827 हेक्टेयर था। यदि एक साल के आंकड़े की ही तुलना की जाए तो धान बेचने के लिए पंजीकृत किसानों की संख्या में लगभग सवा लाख तथा पंजीकृत धान के रकबे में 2 लाख 18 हजार की वृद्धि हुई है।

राज्य में समर्थन मूल्य पर धान खरीद में राजनांदगांव जिला प्रदेश में अग्रणीय रहा है। राजनांदगांव जिले के 149 खरीद केन्द्रों में धान खरीदी के अंतिम तिथि 07 फरवरी तक सर्वाधिक  8 लाख 25 हजार 127 मीट्रिक टन धान की खरीदी हुई है। जांजगीर-चांपा जिला दूसरे क्रम पर रहा है यहां 8 लाख 24 हजार 552 मीट्रिक टन धान का उपार्जन हुआ है। महासमुंद जिले ने 7 लाख 74 हजार 136 मीट्रिक टन धान की खरीदी कर तीसरे क्रम पर रहा है।