Thursday , December 1 2022
Home / राजनीति / मण‍िपुर में जदयू के छह में से पांच विधायकों के भाजपा में शामिल होने पर गरमाई बिहार की सियासत..

मण‍िपुर में जदयू के छह में से पांच विधायकों के भाजपा में शामिल होने पर गरमाई बिहार की सियासत..

Bihar Politics: जदयू की राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बीच मण‍िपुर में जदयू के छह में से पांच विधायकों के भाजपा में शामिल होने पर पहले से गर्म बिहार की सियासत और गरमा गई है। जदयू काफी गरम है। इसको लेकर भाजपा पर जमकर हमला किया है। वहीं सहयोगी दल HAM भी मैदान में कूद पड़ा है। भाजपा को चुनौती दे डाली है। इधर भाजपा नेता सुशील मोदी (BJP Leader Sushil Modi) ने कहा है कि अरुणाचल प्रदेश के बाद मणिपुर भी जदयू मुक्‍त। बहुत जल्‍द लालू जी (RJD Supremo Lalu Prasad) बिहार को भी JDU मुक्‍त कर देंगे।
 मणिपुर में दिखा भाजपा का नैतिक आचरण जदयू के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष ललन सिंह ने लिखा कि मणिपुर में एक बार फिर भाजपा का नैतिक आचरण सबके सामने है। आपको याद होगा 2015 में प्रधानमंत्री ने 42 सभाएं की तब जाकर 53 सीट ही जीत पाए थे। 2024 में देश जुमलेबाजों से मुक्‍त होगा। इंतजार कीजिए। वहीं सुशील मोदी को संबोधित करते हुए ट्वीट किया है कि आप इसी तरह अपने नेतृत्‍व को जदयू को खत्‍म करने का दिवास्‍वप्‍न दिखाते रह‍िए। आपको कुछ न कुछ जरूर मिल जाएगा। आपको मेरी शुभकामनाएं। आपको स्मरण कराना चाहते हैं कि अरुणाचल और मणिपुर दोनों जगह जद (यू) ने भाजपा को हराकर सीटें जीती थी। इसलिए जदयू से मुक्ति का दिवास्‍वप्‍न मत देखिए। सवालिया लहजे में पूछा है कि अरुणाचल प्रदेश में जो हुआ था वह आपके गठबंधन धर्म के पालन के कारण हुआ था? मांझी बोले-सिद्धांत की बात करते हैं आप लोग  इधर बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी (Ex CM Jitan Ram Manjhi) ने ट्वीट कर कहा है कि आप किसी दल के विधायक को डरा करा, समझा-बुझाकर, लालच देकर, ब्‍लैकमेल कर अपने साथ ले सकते हैं पर उससे जनादेश आपके साथ नहीं जा सकता। यदि सच में आप सिद्धांत की बात करते हैं तो उन विधायकों को इस्‍तीफा दिलाकर उन्‍हें चुनावी मैदान में भेजिए। जनता तय कर देगी कि वह किनके साथ है। जदयू प्रवक्‍ता नीरज कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह पर हमला बोला है। उन्‍होंने कहा कि मोदी जी और अमित शाह जी जितना भी जतन कर लें। जनता देख रही है। 2024 में जनता दल युनाइटेड आपको निपटा देगा।