Friday , December 9 2022
Home / MainSlide / देश का सुनहरा भविष्य तय करने के लिए डबल इंजन की सरकार जरूरी- मोदी

देश का सुनहरा भविष्य तय करने के लिए डबल इंजन की सरकार जरूरी- मोदी

   (फाईल फोटो)

अहमदाबाद 20 नवम्बर।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि देश का 25 वर्ष का सुनहरा भविष्य तय करने के लिए डबल इंजन की सरकार जरूरी है।

श्री मोदी ने आज वेरावल में चुनावी रैली में कहा कि सरकार आम लोगों, किसानों, युवाओं, महिलाओं और मछुआरों को सशक्त बनाने की नई नीतियां लाई हैं।उन्होने मुफ्त रसोई गैस कनेक्शन, हर घर नल से जल और आयुष्मान भारत जैसी सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का उल्लेख किया। श्री मोदी ने कहा कि भाजपा ने सदैव देश और आम लोगों के विकास के लिए काम किया है।

श्री मोदी ने सौराष्ट्र में आज अपने चुनाव अभियान की शुरुआत सोमनाथ मंदिर में दर्शन के साथ की। श्री मोदी सोमनाथ मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष भी हैं। राजनीतिक विश्लेषकों का कहना है कि सौराष्ट्र के इतिहास में संभवतः पहली बार किसी प्रधानमन्त्री की एक दिन में इतनी रैलियां हो रही हैं। वेरावल को भी पहली बार प्रधानमन्त्री की चुनावी रैली हुई।श्री मोदी ने आज अमरेली और बोटाड में भी रैलियों को संबोधित किया। तीन दिवसीय इस चुनाव अभियान को प्रधानमंत्री ने गुजरात में सत्ता की कुंजी माने जाने वाले सौराष्ट्र क्षेत्र पर ही खास तौर पर केन्द्रित रखा है। सौराष्ट्र में 48 विधानसभा क्षेत्र हैं और 2017 के चुनावों में भाजपा को यहाँ नुकसान उठाना पड़ा था।

राजकोट जिले के धोराजी में चुनावी रैली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि गुजरात आज सभी क्षेत्रों में फल-फूल रहा है और समय आ गया है कि आने वाले 25 वर्षों में राज्य को समृद्ध बनाने के लिए आगे बढ़ा जाए। श्री मोदी ने कहा कि दो दशक पहले सौराष्ट्र क्षेत्र में पानी का गंभीर संकट होता था, लेकिन भाजपा सरकार के लगातार प्रयासों से नर्मदा नदी का पानी सौराष्ट्र पहुंचा, जिससे इस क्षेत्र में पानी की कमी दूर हुई। प्रधानमंत्री ने सौराष्ट्र की समृद्धि में सुजलम सुफलम योजना की भूमिका को उजागर किया।उन्होंने कहा कि बिजली, पानी, शिक्षा, स्वास्वाथ और बुनियादी ढांचा उपलब्ध कराकर भाजपा सरकार ने क्षेत्र का विकास सुनिश्चित किया है। प्रधानमंत्री ने विकास को चुनने और आगामी 25 वर्षों में राज्य को विकास की नई ऊंचाईयों तक ले जाने के लिए लोगों से भाजपा को वोट देने को कहा।

राज्य में विधानसभा चुनाव के पहले चरण में 89 सीटों के लिए पहली दिसम्बर को मतदान होगा। 788 उम्मीादवार मैदान में हैं। दूसरे चरण में 93 सीटों के लिए मतदान 5 दिसंबर को होगा। इस चरण में 1112 उम्मीदवारों के नामांकन पत्र वैध पाए गए हैं। मतगणना हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के साथ ही आठ दिसम्बर को होगी।