Friday , May 24 2024
Home / देश-विदेश / पूर्व छात्र ने लगाई प्राचार्य को आग ..

पूर्व छात्र ने लगाई प्राचार्य को आग ..

मध्यप्रदेश के इंदौर में एक प्राइवेट बीएम कॉलेज के पूर्व छात्र ने 54 वर्षीय महिला प्राचार्य पर कथित तौर पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी थी। जिंदगी और मौत के बीच झूल रही प्राचार्य की आखिरकार इलाज के दौरान मौत हो गई। पांच दिन पहले उन्हें पेट्रोल डालकर जला दिया गया था।  

पूर्व छात्र ने लगाई प्राचार्य को आग

बता दें कि अपने खिलाफ दर्ज एक केस से आक्रोशित बीएम कालेज के पूर्व छात्र आशुतोष श्रीवास्तव ने सोमवार को प्राचार्य विमुक्ता शर्मा पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी थी। जिसके  बाद उसने आत्महत्या की कोशिश की थी, लेकिन वनकर्मी ने उसे पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया था। हादसे में प्राचार्य 90 प्रतिशत झुलस गई थीं। चोइथराम अस्पताल में उनका उपचार चल रहा था। लेकिन प्राचार्य जिंदगी की जंग हार गईं। बीएम कालेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड फार्मेसी की प्राचार्य विमुक्ता शर्मा को पेट्रोल डाल कर जलाने वाले आरोपित आशुतोष श्रीवास्तव पर कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी ने रासुका लगाई है। पुलिस ने आपराधिक प्रकरणों की जानकारी सहित रासुका का प्रस्ताव भेजा था।

आरोपी को लिया गया था रिमांड पर

एडिशनल एसपी(ग्रामीण)शशिकांत कनकने ने बताया कि विजयश्री नगर कालानी नगर निवासी आशुतोष पुत्र संतोष श्रीवास्तव को शुक्रवार दोपहर जिला कोर्ट(महू) पेश कर शनिवार तक रिमांड पर लिया गया था। अफसरों ने आरोपित से पूछताछ की और दोपहर को घटना स्थल पर ले गए। घटना का नाट्यरुपांतरण करवाया और लाइटर, बाइक और वो बालटी जब्त की जिससे आशुतोष ने विमुक्ता (प्राचार्य) पर पेट्रोल डाला था। टीआइ आरएनएस भदौरिया दोपहर को आरोपित को खंडवा रोड़ स्थित पेट्रोल पंप पर भी ले गए जहां से बाइक में पेट्रोल भरवाया था। कर्मचारियों ने उसके आने की पुष्टि की और आरोपित के सीसीटीवी फुटेज भी हासिल किए।

स्टूडेंट्स ने बताई थी आपबीती

घटना पर मौजूद स्टूडेंट्स ने बताया कि हमें लगा क‍ि किसी ने कूड़े में आग लगा दी है जो शायद बढ़ गई है। हम लोग कॉलेज की बिल्डिंग से बाहर निकलकर आए तो देखा एक महिला भागते हुए फार्मेसी डिपार्टमेंट की तरफ आ रही थी, उसके बदन को आग की लपटों ने घेर रखा था। वह चिल्ला रही थी, बचाओ-बचाओ-आग-आग। हमें लगा कि किसी पागल ने खुद को आग लगा ली है।