Thursday , May 23 2024
Home / MainSlide / कांग्रेस यूपीए गठबंधन में भाजपा विरोधी और दलों को शामिल करने को तैयार

कांग्रेस यूपीए गठबंधन में भाजपा विरोधी और दलों को शामिल करने को तैयार

शहीद वीर नारायण सिंह नगर 25 फरवरी।कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा हैं कि कांग्रेस आगामी लोकसभा चुनावों से पूर्व संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन(यूपीए) में भाजपा एवं संघ के खिलाफ लड़ने को तैयार और दलों को शामिल करने क तैयार हैं।

श्री खड़गे ने आज यहां पार्टी के 85वें राष्ट्रीय अधिवेशन में निवर्तमान पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी एवं पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में कहा कि 2004 से 2014 के बीच कई दलों के यूपीए गठबंधन ने सरकार चलाई और बेहद कामयाब रही लेकिन एक रणनीति के तहत बेहद ईमानदार प्रधानमंत्री डा,मनमोहन सिंह को बदनाम किया गया।उन्होने कहा कि मौजूदा समय में प्रजातंत्र को नष्ट करने का षडयंत्र हो रहा है और साम्प्रदायिक सदभाव को खत्म कर देश को तोड़ने की कोशिश हो रही है।इस हालात से निपटने के लिए सभी को मिलकर मुकाबला करना होगा।

उन्होने मोदी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि देश सबसे कठिन चुनौती के दौर से गुजर रहा है।सत्ता में चुने हुए लोगो ने भारत के मूल्यों पर हमला बोल दिया है।उन्होने कहा कि सभी संवैधानिक संस्थाओं की मर्यादा को तोड़ा जा रहा है।कमरतोड़ महंगाई,बेरोजगारी,नोटबंदी और गलत ढ़ग से थोपी गई जीएसटी से छोटे कारोबार को बहुत नुकसान पहुंचा है।किसान फसलों के लाभकारी मूल्य से वंचित है,और नफरत की राजनीति से सामाजिक माहौल को नुकसान पहुंचा है।

मोदी पर प्रवर्तन निदेशालय(ईडी),आयकर,सीबीआई और अन्य केन्द्रीय एजेन्सियों को अपने राजनीतिक विरोधियों से निपटने और चुनी हुई राज्य सरकारों को अस्थिर करने का आरोप लगाते हुए श्री खड़गे ने कहा कि छत्तीसगढ़ में अधिवेशन से पूर्व ईडी की इसकी व्यवस्था में जुड़े पार्टी के लोगो के यहां छापे की कार्रवाई हो या फिर दिल्ली विमानतल की घटना,यह सब डराने की कोशिश है।उन्होने कहा कि इसके खिलाफ डटकर लड़ना होगा,अगर लड़ते रहेंगे तो जरूर कामयाब होंगे।

श्री खड़गे ने नफरत के अधेरे के बीच भारत जोड़ों यात्रा को रोशनी की एक उम्मीद करार देते हुए कहा कि राहुल गांधी ने देश की उम्मीदों की मशाल जला दी है।यह सूरज की नई रोशनी है।उन्होने कहा कि आज हर कांग्रेसी एवं देशवासियों को संकल्प लेने की जरूरत है कि सेवा,संघर्ष और बलिदान और सबसे पहले हिन्दुस्तान। उन्होने कहा कि पिछले नौ वर्षों में अमीर और गरीब के बीच खाई बहुत बढ़ गई है।

उन्होने अडानी का नाम लिए बगैर कहा कि एक तऱफ प्रधानमंत्री के मित्रों की दौलत नौ वर्षों में तेरह सौ प्रतिशत बढ़ी कि वह दुनिया के दूसरे नम्बर तक पहुंच गए वहीं दूसरी ओर किसान मजदूर को मजदूरी का औसतन 48 रूपए रोज का है।उन्होने कहा कि भारतीय जीवन बीमा निगम(एलआईसी) और भारतीय स्टेट बैंक बच पायेंगे या इन्हे ही बेच देंगे।उन्होने कहा कि कांग्रेस ने जो बनाया उसे यह बेचने में जुटे हुए है।

चीन के मुद्दे पर मोदी सरकार को घेरते हुए श्री खड़गे ने कहा कि प्रधानमंत्री ने संसद में चीन को क्लीवचिट क्यों दी।उन्होने आरोप लगाया कि मोदी सरकार ने चीन के सामने घुटने टेक दिए है।उन्होने कहा कि हम सभी देश की सेना के साथ खड़े है।श्री खड़गे ने विदेश मंत्री जयशंकर के बयान पर उऩ्हे आड़े हाथों लेते हुए कहा कि चीन मसले पर साफ साफ सत्ता की विफलता है।