Friday , May 24 2024
Home / देश-विदेश / आईए जानते क्यों मंडरा रहा शहबाज शरीफ सरकार पर संकट…

आईए जानते क्यों मंडरा रहा शहबाज शरीफ सरकार पर संकट…

पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में इन दिनों राजनीतिक अस्थिरता चरम पर है। पूर्व पीएम इमरान खान के समर्थक लगातार आंदोलन कर रहे हैं और उनकी गिरफ्तारी की आशंका भी है। माना जा रहा है कि इमरान खान की गिरफ्तारी पर पंजाब समेत देश के कई राज्यों भारी बवाल हो सकता है। इस बीच शहबाज शरीफ सरकार पर भी संकट के बादल मंडराते दिख रहे हैं। शहबाज शरीफ की  सरकार में शामिल पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी ने गठबंधन से अलग होने के संकेत दिए हैं। पार्टी के मुखिया और विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी ने कहा कि बाढ़ से जूझ रहे सिंध के लिए राहत देने के वादों पर सरकार खरी नहीं उतरी तो फिर उनके लिए गठबंधन में बने रहना मुश्किल होगा।
उन्होंने कहा कि अब भी बाढ़ से प्रभावित किसानों को 4.7 अरब डॉलर की जो मदद सरकार को देनी थी, वह नहीं मिली है। पाकिस्तान की राजनीति को समझने वाले कहते हैं कि भले ही बिलावल भुट्टो जरदारी ने किसानों की मदद के नाम पर गठबंधन से अलग होने की बात कही है, लेकिन मामला सरकार पर गहराते संकट का ही है। दरअसल उन्हें लगता है कि शहबाज शरीफ सरकार मुश्किल में है और यदि पंजाब एवं खैबर पख्तूनख्वा में चुनाव हुए तो उसे हार का सामना करना पड़ सकता है। इन दोनों ही राज्यों में इमरान खान का जोर रहा है। ऐसे में आगे की राह को मुश्किल देख पीपीपी पहले ही रास्ता अलग कर सकती है। इमरान को गिरफ्तार करने गई पुलिस खाली हाथ लौटी, भिड़े समर्थक यदि आने वाले दिनों में ऐसा कुछ हुआ तो पाकिस्तान के राजनीतिक घटनाक्रम में यह बड़ा बदलाव होगा। इस बीच रविवार को इमरान खान को गिरफ्तार करने के इरादे से उनके लाहौर स्थित घर पहुंची पुलिस खाली हाथ ही लौट गई। पुलिस के पहुंचने पर हजारों की संख्या में पीटीआई समर्थक भिड़ गए। यहां तक कि पुलिस बल कम पड़ गया तो उन्हें खाली हाथ लौटना पड़ा। पुलिस ने कहा कि हम वॉरंट देने आए हैं क्योंकि तोशाखाना मामले में इमरान खान अदालत में पेश नहीं हो रहे हैं। इस पर पीटीआई ने भरोसा दिया है कि 7 मार्च को होने वाली सुनवाई में इमरान खान पहुंचेंगे। गिरफ्तारी से बचने को घर से निकलकर कहीं छिपे थे इमरान पुलिस ने कहा कि इमरान खान गिरफ्तारी से बचने के लिए घर से ही निकल गए थे और कहीं छिपे थे। पुलिस ने कहा कि पुलिस अधीक्षक उनके लाहौर स्थित घर के कमरे में घुसे थे, जहां वह रहते हैं। लेकिन इमरान खान वहां नहीं पाए गए। एक तरफ इमरान खान के घर पर पुलिस थी तो वहीं वह ट्वीट करके शहबाज पर भ्रष्टाचार के आरोप लगा रहे थे। उन्होंने कहा कि 8 अरब रुपये की मनी लॉन्ड्रिंग का केस शहबाज पर था, लेकिन वह पूर्व आर्मी चीफ जनरल बाजवा की मदद से बच गए और केस को टाला गया।