Friday , May 24 2024
Home / MainSlide / कोई भारत की एक इंच भूमि पर भी नहीं कर सकता कब्जा- शाह

कोई भारत की एक इंच भूमि पर भी नहीं कर सकता कब्जा- शाह

ईटा नगर 10 अप्रैल।केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि कोई हमारी एक इंच भूमि पर भी कब्‍जा नहीं कर सकता।हमारी सीमाओं और सुरक्षा बलों के सम्‍मान के साथ कोई समझौता नहीं होगा।

श्री शाह ने अरूणाचल प्रदेश में अंजॉ जिले के किबिथू गांव में आज वायब्रंट विलेज कार्यक्रम की शुरूआत के बाद कहा कि सुई की नोंक जितनी भूमि का भी अतिक्रमण कोई नहीं कर सकता, क्‍योंकि आईटीबीपी और भारतीय सेना यहां पर उपस्थित। यहां पर 13 हजार फुट की ऊंचाई पर कठिनाई के साथ अपने युवानी को बिताते हुए, अपने परिवार से दूर, बूढे मां-बाप और छोटे बच्‍चों से दूर रहकर देश की सेवा कर रहे हैं।

उन्होने कहा कि किबिथू देश का आखिरी गांव नहीं, बल्कि पहला गांव है।किबिथू की यह धरती, जहां से भारत की शुरूआत होती है और यह गांव भारत की शुरूआत का गांव है। पहले जब मध्‍य भारत से कोई आता था तो कहता था कि मैं भारत के अंतिम गांव में जाकर आया और अब जब यहां से जिस समय यहां से वापस जाउंगा, मेरी पोती को बताउंगा कि मैं भारत के पहले गांव में जाकर आया हूं।

गृह मंत्री ने कहा कि सीमा की सुरक्षा देश की सुरक्षा है और इसको ध्‍यान में रखते हुए नरेंद्र मादी सरकार ने देश की अंतर्राष्‍ट्रीय सीमाओं के बुनियादी ढांचे के विकास को सर्वोच्‍च प्राथमिकता दी है।श्री शाह ने कहा कि 2014 से पहले तत्‍कालीन केंद्र सरकारों की गलत नीतियों के कारण सम्‍पूर्ण पूर्वोत्‍तर क्षेत्र को अशांत और समस्‍यग्रस्‍त क्षेत्र माना जाता था। लेकिन केवल नौ वर्ष में पूर्वोत्‍तर को देखने का नजरिया बदल गया है। इसे अब देश के विकास में योगदान देने वाले क्षेत्रों में से एक माना जाता है।

श्री शाह ने कहा कि इस अल्‍पावधि में इस क्षेत्र के आठ हजार से अधिक उग्रवादियों ने समर्पण किया।श्री शाह ने अरुणाचल प्रदेश सरकार की नौ माइक्रो हाइडल परियोजनाओं और 120 करोड़ की लागत से आईटीबीपी की 14 परियोजनाओं का उद्घाटन भी किया। इस अवसर पर अरूणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू, केन्द्रीय गृह सचिव और भारत तिब्बत सीमा पुलिस  के महानिदेशकसहित अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।