Thursday , May 23 2024
Home / बाजार / रिलायंस कैपिटल लिमिटेड (Rcap) की बिक्री के लिए होने वाली नीलामी हुई कैंसिल…

रिलायंस कैपिटल लिमिटेड (Rcap) की बिक्री के लिए होने वाली नीलामी हुई कैंसिल…

दिवालिया प्रोसेस से गुजर रही रिलायंस कैपिटल लिमिटेड (Rcap) की बिक्री के लिए होने वाली आज 11 अप्रैल की नीलामी कैंसिल हो गई है। हालांकि, लेंडर्स ने नीलामी आयोजित करने की योजना को छोड़ा नहीं  है, जल्द इसके लिए नई तारीख दी जा सकती है।
जानकारी के मुताबिक, नीलामी रद्द करने का फैसला सोमवार को लेनदारों की समिति (सीओसी) की बैठक में लिया गया है। बता दें कि हाल ही में टोरेंट इन्वेस्टमेंट्स ने रिलायंस कैपिटल के ऋणदाताओं को सूचित किया था कि वह नीलामी के दूसरे चरण में हिस्सा लेने के लिए तैयार नहीं है। टोरेंट कर रहा था विरोध बता दें कि नीलामी के विस्तार का विरोध करते हुए टोरेंट इन्वेस्टमेंट्स ने आरबीआई के डिप्टी गवर्नर एम. राजेश्वर राव को लिखे पत्र में रिलायंस कैपिटल के प्रशासक नागेश्वर राव वाई को निर्देश देने की मांग की थी। पत्र में कहा गया था कि चुनौती प्रक्रिया 21 दिसंबर, 2022 को समाप्त हो गई थी, जिसमें टोरेंट इन्वेस्टमेंट्स को प्रशासक के ईमेल के साथ उच्चतम बोली राशि के रूप में 8,640 करोड़ रुपये की एनपीवी बोली राशि की पुष्टि की गई थी। इन कंपनियों ने लिया था हिस्सा सूत्रों के मुताबिक, जिन बोलीदाताओं ने नीलामी के दूसरे दौर में अपनी भागीदारी की पुष्टि की है, उनमें हिंदुजा समूह की इंडसइंड इंटरनेशनल होल्डिंग्स लिमिटेड (IIHL), टोरेंट इन्वेस्टमेंट और सिंगापुर स्थित ओकट्री शामिल हैं। बोलीदाताओं की प्रमुख कंसर्न इन्सॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड (IBC) और रिक्वेस्ट फॉर रेज़ोल्यूशन प्लान (RFRP) दिशानिर्देशों के साथ रिज़ॉल्यूशन प्लान का अनुपालन है, जैसा कि नीलामी के पहले दौर में हिंदुजा समूह की फर्म ने नीलामी के बाद बोली जमा की थी। शेयर का क्या है हाल रिलायंस कैपिटल के शेयर आज मंग्लवार को लगभग 4% चढ़ गया था। कंपनी के शेयर वर्तमान में 9.80 रुपये पर ट्रेड कर रहे हैं। बता दें कि रिलायंस कैपिटल के शेयर लगातार बिकवाली के प्रेशर में हैं। कंपनी के शेयर ने जनवरी 2008 में 2770 रुपये के स्तर को टच किया था। इसके बाद शेयर में गिरावट का सिलसिला जारी हुआ और वो अब तक बरकरार है। इस बीच कंपनी पर 40 हजार करोड़ रुपये का कर्ज हो गया और नहीं चूकाने की वजह से रिलायंस कैपिटल अब दिवालिया प्रक्रिया से गुजर रही है।