Saturday , July 13 2024
Home / बाजार / वसुधैव कुटुंबकम की थीम पर शुरू हुआ अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला

वसुधैव कुटुंबकम की थीम पर शुरू हुआ अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला

प्रगति मैदान के भारत मंडपम में केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल व सोम प्रकाश ने इसका उद्घाटन किया।

भारतीय अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले का मंगलवार को आगाज हो गया। प्रगति मैदान के भारत मंडपम में केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल व सोम प्रकाश ने इसका उद्घाटन किया। 27 नवंबर तक चलने वाले व्यापार मेले में विश्व व्यापार क्षेत्र में आपसी संपर्क, सहयोग, सतत विकास व समृद्धि पर जोर दिया जाएगा। 42वें व्यापार मेले में देश विदेश के करीब 3500 से अधिक व्यवसायी हिस्सा ले रहे हैं और अपने उत्पादों को प्रदर्शित कर रहे हैं। भारत इनके माध्यम से दुनिया को मानवता का संदेश देगा।

द्घाटन समारोह में केंद्र सरकार के मंत्रियों के साथ दिल्ली सरकार के मंत्री सौरभ भारद्वाज ने भी मंच साझा किया। ब्राजील के गवर्नर एमएम फरेरा, भारत व्यापार संवर्धन संगठन के अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक प्रदीप सिंह खरौला व अन्य अधिकारी मौजूद थे। शुरुआती पांच दिन केवल कारोबारियों के लिए हैं जबकि आम लोगों की एंट्रूी 19 नवंबर से शुरू होगी। 

वसुधैव कुटुंबकम- यूनाइटेड बाई ट्रेड मेले की थीम है। इससे पहले जी-20 शिखर सम्मेलन के दौरान भारत अपने प्राचीन दर्शन विविधता में एकता के संदेश से दुनिया को ये समझाने में सफल रहा कि पूरा विश्व परिवार है। केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल ने मेले की थीम पर बोलते हुए ये बातें कहीं। उन्होंने कहा, ऐसे समय जब दुनिया युद्ध के संकट से घिरी है, भारत ट्रेड फेयर से दुनिया को फिर ये संदेश देगा कि इस खूबसूरत पृथ्वी को बचाने का एक मात्र समाधान मानवता ही है। मेले में 13 देश शामिल हैं।

विद्यार्थी थी जब पहली बार ट्रेड फेयर में आई – अनुप्रिया पटेल
अनुप्रिया पटेल ने कहा, पढ़ाई के दौरान पहली बार ट्रेड फेयर आई थीं। इस साल अबतक के सबसे हाईटेक ट्रेड फेयर की मुख्य अतिथि बनना उनकी सबसे बड़ी उपलब्धि है। प्रगति मैदान अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस है। ये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामर्थ्य को दर्शाता है, जिन्होंने पिछले दस साल देश में ट्रेड को बढ़ावा देने के लिए सरल नियम बनाए। एमएसएमई के माध्यम से ग्रामीण उद्योगों को बढ़ाने का काम किया। ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के क्षेत्र में प्रगति जारी है। मेला दुनियाभर के सामाजिक, सास्कृतिक और व्यावसायिक मुद्दों को उठाएगा और इन्हें मजबूत करेगा। दुनियाभर के राजनयिक, नीति निर्माता, व्यवसायी इसमें विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करेंगे।

एमएसएमई और स्टार्टअप के लिए वरदान – सोम प्रकाश
केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री सोम प्रकाश ने कहा कि ये ट्रेड फेयर एमएसएमई और स्टार्टअप के लिए वरदान साबित होगा। इस वैश्विक प्रदर्शनी में उन्हें पहचान मिलेगी। यहां सेमिनार, सांस्कृतिक कार्यक्रम, नवाचार को मंच मिलेगा। भारतीय हैंडीक्राफ्ट, हैंडलूम की विभिन्न किस्में मिलेंगी। व्यावसायी, नीति निर्माता, ग्राहक, अर्थशास्त्र के जानकार इसमें हिस्सा लेंगे। नवाचार को प्रोत्साहित करने वाली ट्रेड फेयर की थीम भी सफल होगी।

पहली बार पूरी क्षमता के साथ लगा ट्रेड फेयर : खरौला
आईटीपीओ के अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक प्रदीप सिंह खरौला ने कहा कि प्रगति मैदान में पहली बार पूरी क्षमता से ट्रेड फेयर लगा है। करीब 1.10 लाख वर्ग मीटर क्षेत्रफल इस्तेमाल हुआ है। पिछले साल 73 हजार वर्ग मीटर में लगा था। प्रगति मैदान के हाईटेक 10 हॉल में 3500 से ज्यादा स्टाॅल हैं। पहली बार मोबाइल एप से पूरे मेले का नेविगेशन कर सकते हैं। किसी भी स्टाॅल को ढूंढ सकते हैं। बड़ी एलसीडी स्क्रीन पर मेले के हर हिस्से को देखा जा सकता है। हर कोना सीसीटीवी कैमरे से लैस है। भारत मंडपम, फूड कोर्ट, एंफीथियेटर सभी आगंतुकों को आकर्षित कर रहे। भारत मंडपम के भूतल पर बड़ी पार्किंग एरिया है। मेले के शुरुआती पांच दिन 14-19 नवंबर को व्यावसायिक दिन हैं। इस दौरान यहां ज्यादातर बी-टू-बी गतिविधियां होंगी। 19-27 नवंबर को मेले में आम लोगों को एंट्री मिलेगी। उन्होंने उम्मीद जताई कि 14 दिन में करीब 12 लाख से ज्यादा लोग मेले में आएंगे।

सौरभ भारद्वाज ने किया दिल्ली मंडप का उद्घाटन
दिल्ली के उद्योग मंत्री सौरभ भारद्वाज ने मंगलवार को ट्रेड फेयर में दिल्ली मंडप का उद्घाटन किया। कनाॅट प्लेस की थीम पर पवेलियन को तैयार किया गया है। इन्वेस्ट दिल्ली, ईज ऑफ लिविंग, क्लीन दिल्ली, ग्रीन दिल्ली इसके केंद्र में हैं। पवेलियन में सौरभ भारद्वाज के स्वागत में दिल्ली के सरकारी स्कूलों के शिक्षकों के समूह ने गीत गाए और छोटे बच्चों ने नृत्य प्रस्तुत किया।

सौरभ भारद्वाज ने पवेलियन की सराहना की। उन्होंने अतिथि रजिस्टर में नोट किया कि कनाट प्लेस और ट्रेड फेयर उन्हें बचपन की याद दिलाते हैं। उद्योग विभाग के मुख्य सचिव मनीष गुप्ता, डीएसआईआईडीसी के निदेशक संजीव मित्तल, अतिरिक्त निदेशक मोनिका प्रियदर्शिनी, दिल्ली पवेलियन के मुख्य प्रबंधक निदेशक शोभित गुप्ता व विभिन्न विभागों के अधिकारी भी मौके पर उपस्थित थे।

दिल्ली पवेलियन में तीन खास गलियारे बनाए गए हैं। पहला गलियारा पर्यटन को समर्पित है, जिसमें ऐतिहासिक स्मारकों, चिकित्सा पर्यटन और शिक्षा पर्यटन के कटआउट लगाए गए हैं। सांस्कृतिक गलियारा योग, त्योहारों और दिल्ली के नृत्य रूपों को समर्पित है, तीसरा औद्योगिक गलियारा स्टार्ट अप, उद्यमियों और एमएसएमई को समर्पित है। इसके अलावा दिल्ली सरकार की डोर स्टेप डिलिवरी सर्विसेज को भी पवेलियन में स्थान दिया गया है।

ऑन द स्पॉट ड्राइविंग लाइसेंस
दिल्ली पवेलियन में परिवहन विभाग के कॉर्नर पर ऑन द स्पॉट ड्राइविंग लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन की सुविधा मिल रही है। इलेक्ट्रिक ऑटो रिक्शा और इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन की प्रदर्शनी भी लगी है। लाइव मोहल्ला क्लिनिक में ऑन द स्पॉट मेडिकल, 95 परीक्षण सुविधाएं और डॉक्टरों से मुफ्त परामर्श ले सकते हैं। बाकी विभागों ने अपने कार्यों को प्रदर्शित किया है।