Tuesday , March 5 2024
Home / MainSlide / राजस्थान में विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार पर कल शाम लगेगा विराम

राजस्थान में विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार पर कल शाम लगेगा विराम

जयपुर 22 नवम्बर।राजस्थान में विधानसभा चुनाव प्रचार चरम पर है और कल शाम इस पर विराम लग जायेंगा।प्रचार के अन्तिम दौर में सभी राजनीतिक दलों के शीर्ष स्तर के नेता और उम्मीदवार जनता का विश्वास अपने पक्ष में जीतने के लिए पुरजोर कोशिश कर रहे हैं।

   भाजपा के वरिष्‍ठ नेता और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज डूंगरपुर के सागवाड़ा और भीलवाड़ा के पास कोटड़ी में जनसभाओं को संबोधित किया। उन्होंने कांग्रेस पर भ्रष्टाचार और भाई-भतीजावाद का आरोप लगाया। हाल ही में चर्चा में रही लाल डायरी का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इसमें कांग्रेस के कई ताकतवर नेताओं के रिश्तेदारों के राज भी छिपे हैं। श्री मोदी ने कहा कि राजस्थान में पेट्रोल और डीजल की कीमतें अन्य पड़ोसी राज्यों की तुलना में काफी अधिक हैं और भाजपा के सत्ता में आने पर इसकी समीक्षा की जायेगी। उन्होंने राज्य में आयोजित विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के पेपर लीक की चर्चा करते हुए कहा कि पेपर माफियाओं से सख्ती से निपटा जायेगा।

  भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जैतारण की सभा में कहा कि देश हर क्षेत्र में तेजी से प्रगति कर रहा है और भारत दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया है। उन्होंने राज्य की कांग्रेस सरकार पर युवाओं और किसानों को धोखा देने का आरोप लगाया। भाजपा के वरिष्ठ नेता और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जोधपुर में एक जनसभा को संबोधित किया। इनके अलावा गजेंद्र सिंह शेखावत, शिवराज सिंह चौहान, वसुंधरा राजे, ओम माथुर, डॉ. किरोड़ी लाल मीणा और राजेंद्र राठौड़ समेत कई अन्य वरिष्ठ नेताओं ने पार्टी उम्मीदवारों के पक्ष में मैराथन जनसभाएं कीं।

  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने राजाखेड़ा, नदबई और गंगापुर सिटी में जनसभाएं कीं। उन्होंने देश में जातीय जनगणना की वकालत की और कहा कि देश का विकास तभी संभव है जब पिछड़ों और आदिवासियों को सत्ता में भागीदारी दी जायेगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने देश को मनरेगा, भोजन का अधिकार जैसी योजनाएं दी हैं, जिसका सबसे ज्यादा फायदा पिछड़े वर्ग और गरीबों को हुआ है। कांग्रेस की वरिष्ठ नेता प्रियंका गांधी ने चूरू और शाहपुरा में आयोजित सभाओं में राज्य सरकार की जनकल्याणकारी नीतियों पर चर्चा की। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी पर देश की संपत्ति चुनिंदा उद्योगपतियों को सौंपने का आरोप लगाया। पार्टी के वरिष्ठ नेता और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मालपुरा, सोजत और बालेसर में जनसभाओं को संबोधित किया। उन्होंने राज्य सरकार द्वारा पिछले पांच वर्षों में किये गये जनकल्याणकारी कार्यों की चर्चा की और अपनी पार्टी के उम्मीदवारों के पक्ष में मतदान करने की अपील की।

  बसपा प्रमुख मायावती, राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के प्रमुख हनुमान बेनीवाल, आजाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रशेखर आजाद और अन्य दलों के शीर्ष नेता अपनी पार्टी के उम्मीदवारों के प्रचार में व्यस्त रहे।