Monday , May 27 2024
Home / जीवनशैली / इन एक्सरसाइजेस की मदद से काफी हद तक थाम सकते हैं बढ़ती उम्र का असर…

इन एक्सरसाइजेस की मदद से काफी हद तक थाम सकते हैं बढ़ती उम्र का असर…

हर साल 7 अप्रैल को World Health Day मनाया जाता है। जिसका मकसद लोगों को उनकी सेहत के प्रति जागरूक करना है। WHO ने इस साल विश्व स्वास्थ्य दिवस की थीम माई हेल्थ माई राइट रखी है। लाइफस्टाइल में कुछ जरूरी बदलावों की मदद से आप न सिर्फ सेहतमंद बने रह सकते हैं बल्कि बढ़ती उम्र को भी थामे रख सकते हैं। आइए जानते हैं कैसे।

बढ़ती उम्र को रोक पाना तो हमारे हाथ में नहीं, लेकिन इसके लक्षणों को कम करना जरूर हमारे हाथ में है। पर्याप्त नींद, बैलेंस डाइट, तनाव से दूरी और एक्सरसाइज….ये 4 बेसिक चीज़ें हैं, जिनकी मदद से आप बढ़ती उम्र को आसानी से कंट्रोल कर सकते हैं। वैसे वर्कआउट्स को लेकर बहुत कनफ्यूज़न रहती हैं कि कौन सी एक्सरसाइज करनी चाहिए, जिससे इंजुरी के चांसेज भी कम हो और फायदे भी मिले, तो आज हम ऐसे ही कुछ वर्कआउट्स के बारे में जानेंगे।

योग
एक्सपर्ट्स मानते हैं कि योग लंबे समय तक जवां दिखने में मदद करता है। ऐसे आसन जिसमें पैर ऊपर सिर नीचे की तरफ होता है, इस तरह के आसनों से चेहरे की तरफ ब्लड का सर्कुलेशन बढ़ता है, जिससे झुर्रियां कम होती हैं। इसके अलावा कुछ खास तरह के फेशियल योग भी बढ़ती उम्र के असर को कम करने में प्रभावी होते हैं।

कार्डियो
हेल्दी और यंग स्किन के लिए कार्डियो करना बहुत ही अच्छा होता है। तैरना, साइकिल चलाना और डांस करना बेस्ट कार्डियो वर्कआउट्स में से एक है। इससे नेचुरल मूड बूस्टर हार्मोन एंडोर्फिन रिलीज होता है।

टहलना
रिसर्च में पाया गया है कि रोजाना कुछ किलोमीटर टहलने से डिमेंशिया जैसी खतरनाक बीमारी के होने की संभावना एक तिहाई तक कम हो जाती है। टहलना भी फिट रहने के ईज़ी ऑप्शन्स में से एक है, जो शरीर को लंबे समय तक जवां रखने के साथ हार्ट को भी हेल्दी रखता है।

स्क्वॉट
बढ़ती उम्र को थामने के लिए स्क्वॉट करना बेस्ट है। इस वर्कआउट को करने से मांसपेशियां मजबूत और टाइट बनी रहती है। एक्सरसाइज न करने वालों की मसल्स बढ़ती उम्र के साथ ढीली होने लगती है, जिस वजह से चेहरे और बॉडी को देखकर उम्र का पता लग जाता है।

पुशअप्स
पुशअप्स मसल्स गेन के लिए बेहतरीन एक्सरसाइज है, जिसे हर उम्र के लोग कर सकते हैं। अगर आप प्रॉपर पुशअप्स नहीं कर सकते, तो घुटने मोड़कर या दीवार के सहारे भी इसे कर सकते हैं। इस एक्सरसाइज से भी उम्र के असर को थामा जा सकता है। साथ ही इससे स्टैमिना भी बढ़ती है।

साइक्लिंग
साइक्लिंग भी फन और फायदेमंद एक्टिविटी है बॉडी को फिट रखने के लिए। इसे करने से आप हड्डियों से लेकर ज्वाइंट्स और मसल्स तक को मजबूत बना सकते हैं। अगर आप किसी भी तरह का वर्कआउट नहीं कर पा रहे हैं, तो बस साइक्लिंग को अपने रूटीन में शामिल कर लें। इससे बॉडी में ब्लड का सर्कुलेशन इंप्रूव होता है, हार्ट डिजीज का खतरा कम होता है और कमर के नीचे का फैट कम होता है।