Friday , May 24 2024
Home / MainSlide / संसद पर हुए हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित

संसद पर हुए हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित

नई दिल्ली 13 दिसम्बर।संसद पर हुए हमले के शहीदों को आज श्रद्धांजलि अर्पित की गई।इन शहीदों ने 2001 में आज ही के दिन संसद भवन पर हुए हमले में अपने जीवन का बलिदान  दिया था।

उपराष्‍ट्रपति एम. वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के नेतृत्‍व में सांसदों ने संसद भवन परिसर में इन शहीदों को श्रद्धांजलि दी।लोकसभा अध्‍यक्ष सुमित्रा महाजन और सुषमा स्‍वराज, अरूण जेटली तथा राजनाथ सिंह सहित केन्‍द्रीय मंत्रियों ने भी शहीदों को श्रद्धासुमन अर्पित किये।पूर्व प्रधानमंत्री डॉ.मनमोहन सिंह, भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह, यूपीए अध्‍यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने भी शहीदों को पुष्‍पांजलि दी।

2001 में आज ही के दिन पांच आतंकवादी संसद भवन परिसर में घुस आए थे और अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी थी। लंबे समय तक चली गोलीबारी के बाद सुरक्षाकर्मियों ने पांचों आतंकवादियों को मार गिराया था। इस मुठभेड़ के दौरान संसद सुरक्षा सेवा के दो कर्मी, दिल्‍ली पुलिस के पांच जवान और केन्‍द्रीय रिजर्व पुलिस बल की एक महिला कांस्‍टेबल शहीद हो गए थे। इस हमले में केन्‍द्रीय लोक निर्माण विभाग का एक माली भी शहीद हो गया था।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपने संदेश में कहा है कि  नफरत और आतंक की शक्तियों ने भारतीय लोकतंत्र और लोकतांत्रिक मूल्यों को निशाना बनाया, लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली। उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने कहा कि 13 दिसंबर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करने का दिन है, साथ ही आज के दिन दुश्मनों के खिलाफ एकजुट होकर संघर्ष करने की आवश्यकता का स्मरण कराता है।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस कायराना हमले के दौरान शहादत देने वालों की बहादुरी को सलाम किया। उन्होंने कहा कि इन शहीदों का साहस और उच्च आदर्श सभी भारतीयों को प्रेरणा देते हैं।