Friday , May 24 2024
Home / MainSlide / रमन सरकार की कमीशनखोर नीति का शिकार हुये बस्तर के दोनों किसान- कांग्रेस

रमन सरकार की कमीशनखोर नीति का शिकार हुये बस्तर के दोनों किसान- कांग्रेस

रायपुर15 मई।छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस ने जगदलपुर में दो किसानों की अदालत के निर्देश पर गिरफ्तारी मामले को कर्जमाफी से जोड़कर भाजपा पर झूठा दुष्प्रचार करने का आरोप लगाया है।

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने आज यहां जारी बयान में कहा कि जगदलपुर के दोनों किसान पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के कमीशनखोरी, भ्रष्टाचार के शिकार हुये है। भारतीय जनता पार्टी की सरकार के समय सत्ता में बैठे लोगों के संरक्षण में कुछ दलाल किस्म के लोग किसानो को सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने के नाम पर उनसे सुनियोजित ठगी को अंजाम दे रहे थे।

उन्होने कहा कि दलालो ने ड्रिप इरिगेशन लगाने के लिए बैंकों से ऋण दिलाने एवं कृषि विभाग से अनुदान दिलाने के लिए इन किसानों के जमीन के पेपर चेक और फोटो ले लिया था और किसानों की जानकारी के बिना उनके नाम से बैंक से ऋण ले लिया गया। बैंक ने जब किसानों से ऋण की वसूली के लिए चेक लगाया तब किसान के चेक बाउंस हो गया और चेक बाउंस का प्रकरण में किसानों को न्यायालय के निर्देश पर गिरफ्तारी हुई।

श्री त्रिवेदी ने कहा कि पूरे प्रकरण में पूर्व भारतीय जनता पार्टी की सरकार दोषी है जिसके संरक्षण में कमीशनखोर भ्रष्टाचारी फलते फूलते रहे है। दुर्भाग्यजनक है कि उस समय सरकार के कृषि विभाग के भ्रष्ट अधिकारी भी इस षडयंत्र में शामिल थे। उस दौरान किसानो की शिकायतो पर भाजपा सरकार कार्यवाही नहीं करती थी। बल्कि किसानों के साथ ठगी करने वाले को संरक्षण देती रही है।