Monday , June 17 2024
Home / MainSlide / एलएसी से एलओसी तक भारत ने दुनिया को दिखाई ताकत- मोदी

एलएसी से एलओसी तक भारत ने दुनिया को दिखाई ताकत- मोदी

कोलकाता 23 जनवरी।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि देश की नियंत्रण रेखा से वास्‍तविक नियंत्रण रेखा तक पूरा विश्‍व नेताजी सुभाष चंद्र बोस की परिकल्‍पना वाले आत्‍मनिर्भर भारत के सशक्‍त अवतार को देख रहा है।

श्री मोदी ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125-वीं जयंती वर्ष के उपलक्ष्य में आज यहां पराक्रम दिवस समारोह का शुभारम्‍भ किया।श्री मोदी ने कहा कि..125 वर्ष पहले आज के ही दिन मां भारती की गोद में उस वीर सपूत ने जन्‍म लिया था। जिसने आजाद भारत के सपने को नई दिशा दी। आज के ही दिन गुलामी के अंधेरे में वो चेतना फूटी थी जिसने दुनिया की सबसे बड़ी सत्‍ता के सामने खड़े होकर कहा था मैं तुमसे आजादी मागूंगा नहीं, आजादी छीन लूंगा। आज के दिन सिर्फ नेता जी सुभाष का जन्‍म ही नहीं हुआ था बल्कि आज भारत के नए आत्‍मगौरव का जन्‍म हुआ था..।

उन्होने कहा कि राष्ट्र नेताजी की जयंती को हर वर्ष ‘पराक्रम दिवस’ के रूप में मनाएगा।उन्होने नेताजी के बलिदान और योगदान का स्‍मरण करते हुए कहा कि यह हमारा कर्तव्य है कि हम उन्हें याद करते रहें क्योंकि नेताजी देश के साहस के लिए प्रेरणा हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि नेताजी ने विदेशों में रह रहे भारतीयों को जागृत कर दिया था।

श्री मोदी ने कहा कि दुनिया आत्मनिर्भर भारत के उस शक्तिशाली अवतार को देख रही है, नेताजी ने परिकल्‍पना की थी। श्री मोदी ने विक्टोरिया मेमोरियल में एक प्रदर्शनी और सुभाष चन्‍द्र बोस पर एक प्रोजेक्शन मैपिंग शो का उद्घाटन किया। एक सांस्कृतिक कार्यक्रम “अमरा नूतौन जौबोनेरी दूत” भी आयोजित किया जा रहा है।