Monday , July 15 2024
Home / देश-विदेश / पुणे-मुंबई की बस में नशीला पदार्थ खिलाकर यात्री से लूटपाट

पुणे-मुंबई की बस में नशीला पदार्थ खिलाकर यात्री से लूटपाट

महाराष्ट्र के पुणे में एक व्यक्ति को बस में नशीला पदार्थ खिलाकर लूट लिया। अधिकारियों ने बताया कि पुलिस ने आरोपी को उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार कर लिया है। घटना को पुणे-मुंबई सरकारी एसी बस में अंजाम दिया गया जब एक विज्ञापन एजेंसी के मालिक कुछ काम से कहीं जा रहा था। तभी उसकी कॉफी में कुछ मिला दिया और नशीला पदार्थ खिलाकर उसका कीमती सामान लूट लिया।

महाराष्ट्र के पुणे में एक व्यक्ति को बस में नशीला पदार्थ खिलाकर लूटपाट का मामला सामने आया है। अधिकारियों ने बताया कि पुलिस ने आरोपी को उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार कर लिया है। घटना को पुणे-मुंबई रूट पर चलने वाली सरकारी एसी बस में अंजाम दिया गया जब एक विज्ञापन एजेंसी के मालिक कुछ काम से कहीं जा रहा था। तभी उसकी कॉफी में कुछ मिला दिया और नशीला पदार्थ खिलाकर उसका कीमती सामान लूट लिया।

एक अधिकारी ने बताया कि आरोपी 52 वर्षीय यूनुस शफीकुद्दीन शेख को मुंबई की माटुंगा पुलिस की एक टीम ने आठ जुलाई को उत्तर प्रदेश के मेरठ से गिरफ्तार किया था। उन्होंने बताया कि यह घटना 14 जून को महाराष्ट्र राज्य सड़क परिवहन निगम (एमएसआरटीसी) द्वारा संचालित पुणे-मुंबई शिवनेरी बस में हुई थी।

पुलिस अधिकारी ने मामले की जानकारी देते हुए कहा कि पीड़ित, शैलेन्द्र साठे (57), जो एक विज्ञापन और ब्रांड एजेंसी के मालिक हैं, पुणे के वाकड से मुंबई के लिए शिवनेरी बस में चढ़े थे। आरोपी भी उसी बस में यात्रा कर रहा था। उसने शैलेन्द्र साठे से दोस्ती की और एक कप कॉफी पीने की पेशकश की। जब बस खालापुर में एक फूड मॉल पर रुकी तो उसने वह कॉफी पिलाई। यात्रा के दौरान जब साठे बेहोश हो गए, तो आरोपी ने उनके सोने के गहने चुरा लिए, जिसमें एक अंगूठी और एक मोबाइल फोन भी शामिल था।

उन्होंने बताया कि बस के मध्य मुंबई के दादर पहुंचने के बाद एमएसआरटीसी स्टाफ ने शैलेन्द्र साठे को बस से उतरा और फुटपाथ पर अगले कई घंटों तक बेहोशी की हालत में पड़े रहे। शैलेन्द्र साठे ने अपने एक्स हैंडल पर इस घटना के बारे में बताया कि कैसे उनको बेहोश किया गया और लूटपाट की गई।

पुलिस टीमों ने शिवनेरी बस और खालापुर फूड मॉल, दादर और मुंबई सेंट्रल क्षेत्र सहित अन्य स्थानों पर लगे सीसीटीवी फुटेज की जांच की। उन्होंने बताया कि जांच के दौरान, पुलिस टीमों ने दो संदिग्धों पर ध्यान केंद्रित किया और जानकारी मिली कि वे उत्तर प्रदेश के मेरठ से थे।