Thursday , February 2 2023
Home / MainSlide / भाजपा ने मेडिकल कालेज का नाम बदलने पर किया कड़ा विरोध

भाजपा ने मेडिकल कालेज का नाम बदलने पर किया कड़ा विरोध

रायपुर 12 मार्च।छत्तीसगढ़ भारतीय जनता पार्टी ने भूपेश सरकार के जगदलपुर के स्व. बलीराम कश्यप स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय सह अस्पताल का नाम बदलने के निर्णय की तीखी आलोचना करते हुए इसे ओछी कार्रवाई करार दिया है।

भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि कांग्रेस सरकार को जगदलपुर के चिकित्सा महाविद्यालय सह अस्पताल का नाम बदलने की बड़ी राजनीतिक क़ीमत चुकानी पड़ेगी। प्रदेश सरकार का समूचा राजनीतिक चरित्र ‘बदलापुर की राजनीति’ से दाग़दार है और इस बार नाम बदलने की बात कहकर प्रदेश सरकार ने अपने आदिवासी विरोधी होने का प्रमाण दे दिया है। डॉ. सिंह ने सवाल किया कि यह प्रदेश सरकार आख़िर अपने दम पर कोई ठोस काम करने के बजाय कब तक भाजपा शासनकाल की योजनाओं के नाम बदलकर उसे अपनी उपलब्धि बता-बताकर उधार की राजनीतिक साँसों पर चलेगी?

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु देव साय ने कहा कि कांग्रेस की प्रदेश सरकार ने अपने दम पर एक भी ऐसा काम नहीं किया है, जो प्रदेश के लोककल्याण की दृष्टि से मिसाल के तौर पर गिनाया जा सके। श्री साय ने कहा कि भाजपा शासनकाल के कामों पर यह प्रदेश सरकार नाम बदल-बदलकर अपनी झूठी वाहवाही लूटने की बदनीयती का परिचय दे रही है और अब प्रदेश, विशेषकर बस्तर का आदिवासी समुदाय इसके लिए इस प्रदेश सरकार को कभी माफ़ नहीं करेगा। भाजपा बस्तर के शहीद कांग्रेस नेता स्व. महेंद्र कर्मा के प्रति अपनी पूरी श्रद्धा व्यक्त करते हुए चाहती है कि स्व. कर्मा की स्मृति को चिरस्थायी बनाए रखने के लिए प्रदेश सरकार लोककल्याण की कोई और सार्थक योजना उनके नाम पर शुरू करें, हम और हमारी पार्टी इसका स्वागत और समर्थन करेंगे।

प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि प्रदेश सरकार जगदलपुर के चिकित्सा महाविद्यालय सह अस्पताल का नाम बदलकर न केवल स्व. कश्यप और स्व. कर्मा के साहसिक राजनीतिक व्यक्तित्व का अनादर कर रही है, अपितु बस्तर समेर प्रदेशभर के आदिवासी समुदाय की भावनाओं का मखौल उड़ा रही है।