Saturday , June 22 2024
Home / MainSlide / कैग की रिपोर्ट ने पुष्टि किया कि छत्तीसगढ़ आर्थिक बदहाली की ओर-कौशिक

कैग की रिपोर्ट ने पुष्टि किया कि छत्तीसगढ़ आर्थिक बदहाली की ओर-कौशिक

रायपुर 31 जुलाई।छत्तीसगढ़ विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा है कि नियंत्रक एवं महालेखाकार की रिपोर्ट से भाजपा के राज्य को कांग्रेस सरकार के छत्तीसगढ़ को आर्थिक बदहाली की ओर पहुंचाने का आरोपों की पुष्टि हो गई है।

श्री कौशिक ने आज यहां जारी बयान में महालेखाकार की वर्ष 2019-20 की राज्य की वित्तीय रिपोर्ट में आये तथ्यों पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि ऐसी कोई भी पैरामीटर नहीं है जो नकारात्मक नही हो। सभी आंकड़े अपनी तय सीमा से काफी आगे जा चुके है। किसी भी निर्वाचित सरकार का उद्देश्य होता है अपनी आय के स्रोतों को बढ़ाना ताकि जनहित के कार्यो में खर्च बढ़ाया जा सके लेकिन कांग्रेस सरकार ने उल्टा किया है आय को घटाकर, व्यय को बढ़ाया है।

उन्होने कहा कि सरकार का वित्तीय घाटा वर्ष 19-20 में 17,969.55 करोड़ हो गया जो अब तक के इतिहास में सबसे ज्यादा घाटा है। यह घाटा प्रदेश की जीएसडीपी का अधिकतम 3.5 फीसदी होना चाहिए लेकिन यह 5.46 जा पहुँचा है। इसके दूरगामी परिणाम बहुत घातक है।कांग्रेस सरकार ने राजस्व व्यय में ऐतिहासिक वृद्धि की है, पिछले वर्ष की तुलना में यह व्यय 9066.14 करोड़ ज्यादा है जबकि विकास के लिए किए जाने वाले पूंजीगत व्यय में भारी कमी हुई है जिससे प्रदेश में अधोसंरचना व विकास के काम पूरी तरह बाधित है।

श्री कौशिक ने कहा कि प्रदेश की सरकार वित्तीय प्रबंधन पूरी तरह फेल है, जहाँ पैसा लगाया वहाँ के केवल .03% रिटर्न आया और कर्जे पर सरकार ने औसत 6.83% ब्याज पटाया है। यह किसी भी सरकार के लिए आर्थिक दिवालिया होने का पहला कदम हो सकता है और कांग्रेस सरकार उसी रास्ते पर अग्रसर है। प्रदेश सरकार का कैश बैलेंस भी पिछले वर्ष की तुलना में 881.28 करोड़ घटा है,जो बेहद चिंताजनक है।