Friday , June 21 2024
Home / MainSlide / उत्तराखण्ड में वर्षा प्रभावित क्षेत्रों में राहत और बचाव कार्य जोरों पर

उत्तराखण्ड में वर्षा प्रभावित क्षेत्रों में राहत और बचाव कार्य जोरों पर

देहरादून 19 अक्टूबर। उत्‍तराखण्‍ड में वर्षा प्रभावित क्षेत्रों में राहत और बचाव कार्य जोरों पर है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्‍यमंत्री पुष्‍कर सिंह धामी से बातचीत की तथा राहत और बचाव अभियान तथा राज्‍य में भारी बारिश से हुए नुकसान के बारे में जानकारी ली।उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री ने राज्‍य को हरसंभव मदद देने का आश्‍वासन दिया है।

प्रदेश के कुमाऊं क्षेत्र में अति वृष्टि से सबसे ज्‍यादा जान-माल का नुकसान हुआ है। नैनीताल, अल्मोड़ा और चंपावत जिलों में आज कुल 25 लोगों की मौत हुई है, जबकि कल गढ़वाल क्षेत्र में पांच लोगों की मौत हुई थी। जिला प्रशासन के साथ सेना, आईटीबीपी, एसडीआरएफ और एनडीआरएफ द्वारा विभिन्न स्थानों पर युद्धस्तर पर बचाव कार्य चलाया जा रहा है। बचाव कार्य के लिए सेना के हेलीकॉप्टरों की भी मदद ली जा रही है। कुमाऊं में दो और गढ़वाल क्षेत्र में एक हेलीकॉप्टर तैनात किया गया है।

इस बीच़ मुख्यमंत्री श्री धामी के साथ कैबिनेट मंत्री धन सिंह रावत और पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने आपदा प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया और अतिवृष्टि से हुए नुकसान का जायजा लिया।उन्होने लोगों से कहा कि घबराने की जरूरत नहीं है। सरकार सभी प्रभावितों तक हर संभव मदद पहुंचा रही है।