Monday , January 30 2023
Home / आलेख / जानिए लोहड़ी त्योहार का महत्व पूजा-विधि और सही समय..

जानिए लोहड़ी त्योहार का महत्व पूजा-विधि और सही समय..

आज देशभर में लोहड़ी का त्योहार धूमधाम से मनाया जा रहा है। यह त्योहार विशेष रूप से पंजाब और हरियाणा में मनाया जाता है। यह त्याोहार किसानों के समर्पित है। जानिए इस त्योहार का महत्व पूजा-विधि और सही समय।

आज लोहड़ी का त्योहार देशभर में मनाया जा रहा है। वैसे तो हर साल लोहड़ी 13 जनवरी को मनाई जाती है, लेकिन इस साल यह त्योहार आज यानी 14 जनवरी को मनाया जा रहा है। यह त्योहार नई फसल के आने की खुशी में मनाई जाती है। लोग ढोल-नगाड़े बजाकर इस त्योहार का जश्न मनाते हैं। इस त्योहार में लोग अलाव जलाते हैं, इसमें रेवड़ी, गजक, तिल-गुड़ चढ़ाते हैं। यह त्योहार किसानों के लिए समर्पित है। इस त्योहार को बसंत के आने का संकेत भी माना जाता है।

लोहड़ी पूजा का शुभ मुहूर्त

पंचांग के अनुसार, लोहड़ी का त्योहार 14 जनवरी 2023 को है। आज रात 8 बजकर 57 मिनट पर लोहड़ी की पूजा की जाएगी।

पूजा की विधि

इस त्योहार पर गजक, रेवड़ी, मूंगफली, पॉपकॉर्न खरीदें या चाहें तो घर में ही ये मिठाइयां बना सकते हैं। इसके बाद किसी खुली जगह पर लकड़ियां इकट्ठा कर लें, और आग जलाएं। फिर अग्नि देवता की पूजा करें, आग में गजक, पॉपकर्न, रेवड़ी चढ़ाएं। इसके बाद 7 या 11 बार आग की परिक्रमा कर लें और सुख-शांति की कामना करें।

लोहड़ी का महत्व

लोहड़ी का त्योहार सर्दियों के जाने और बसंत के आने का संकेत माना जाता है। यह त्योहार फसलों की कटाई और बुवाई से संबंधित है। इस दिन लोग अलाव जलाकर नाच-गान करते हैं और खुशियां मनाते हैं। यह त्योहार किसानों का नया साल माना जाता है। कई जगहों पर इस त्योहार को तिलोड़ी के नाम से जानते हैं। इस खास मौके पर किसान अच्छी फसल के लिए कामना करते हैं।