Saturday , April 20 2024
Home / MainSlide / अनुच्छेद 370 जम्मू-कश्मीर के सर्वांगीण विकास में थी मुख्य बाधा- मोदी

अनुच्छेद 370 जम्मू-कश्मीर के सर्वांगीण विकास में थी मुख्य बाधा- मोदी

जम्मू 20 फरवरी।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अनुच्छेद 370 जम्मू-कश्मीर के सर्वांगीण विकास में मुख्य बाधा थी।

    श्री मोदी ने आज यहां जम्मू-कश्मीर और देश के अन्य भागों के लिए अनेक परियोजनाओं की शुरुआत करते हुए कहा कि अनुच्छेद 370 के निरस्त होने के बाद से जम्मू-कश्मीर में सभी क्षेत्रों में संतुलित विकास हुआ है।उन्होने विपक्ष की आलोचना करते हुए कहा कि यह क्षेत्र दशकों तक वंशवादी राजनीति का खामियाजा भुगत रहा था। वंशवादी राजनीति में लिप्त राजनीतिक दलों ने केवल अपने हित की परवाह की।

    उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 हटने के बाद पहली बार जम्मू-कश्मीर के आम लोगों को संविधान में निहित सामाजिक न्याय का आश्वासन मिला और आज जम्मू-कश्मीर को लेकर पूरी दुनिया में बहुत उत्साह है। उन्होंने कहा कि विकसित भारत का मतलब विकसित जम्मू-कश्मीर है।

    श्री मोदी ने कहा कि पिछले 10 वर्षों में भारत में रिकॉर्ड संख्या में स्कूल, कॉलेज और विश्वविद्यालय स्थापित किए गए। जम्मू-कश्मीर में ही 50 नए डिग्री कॉलेज स्थापित किए गए। श्री मोदी ने जम्मू-कश्मीर के लगभग डेढ हजार नए चयनित हुए सरकारी कर्मचारियों को नियुक्ति पत्र भी वितरित किए और ‘विकसित भारत, विकसित जम्मू’ कार्यक्रम के हिस्से के रूप में विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों के साथ बातचीत की।

   वर्ष 2019 में अनुच्छेद 370 को निरस्त किए जाने के बाद से श्री मोदी की जम्मू-कश्मीर की यह दूसरी यात्रा है और आगामी लोकसभा चुनावों से पहले यह महत्वपूर्ण हो गई है। प्रधानमंत्री मोदी ने  बनिहाल – खडी – सुंबर – संगलदान और बारामूला – श्रीनगर – बनिहाल – संगलदान रेल खंड का उद्घाटन किया। उन्होंने घाटी में पहली इलेक्ट्रिक ट्रेन और संगलदान और बारामूला स्टेशनों के बीच ट्रेन सेवा को हरी झंडी दिखाई।