Thursday , June 13 2024
Home / MainSlide / सुरक्षा सलाहकार और डीजीपी ने की नक्सल विरोधी अभियान की समीक्षा

सुरक्षा सलाहकार और डीजीपी ने की नक्सल विरोधी अभियान की समीक्षा

कवर्धा 07 फरवरी।भारत सरकार के वरिष्ठ सुरक्षा सलाहकार के विजय कुमार और छत्तीसगढ़ के पुलिस महानिदेशक डी.एम.अवस्थी ने आज यहां नक्सल विरोधी अभियान की समीक्षा की।समीक्षा बैठक में अर्धसैनिक बलों और सुरक्षा बलों के समन्वय से संयुक्त ऑपरेशन चलाने पर सहमति व्यक्त की गई।

बैठक में छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश के सीमावर्ती जिलों में नक्सल विरोधी अभियान की रणनीति पर चर्चा की गई।छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव, कवर्धा, मध्यप्रदेश के बालाघाट, शहडोल, अनूपपुर, मंडला और डिंडौरी जिलों की सीमाओं में नक्सली गतिविधियों की समीक्षा की गई। उक्त जिलों के पुलिस अधिकारियों ने नक्सली मूवमेंट की जानकारी दी।वरिष्ठ सुरक्षा सलाहकार श्री कुमार और डीजीपी श्री अवस्थी ने नक्सल विरोधी रणनीति बनाने के निर्देश दिये। उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि आईटीबीपी , जिला फोर्स ,  एसटीएफ, सशस्त्र बल और जिला बल के माध्यम से तेज ऑपरेशन चलाया जाए।

नक्सल अभियान की समीक्षा करते हुए आधिकारियों को निर्देशित किया कि पुलिस को प्राप्त सूचनाओं की सत्यता की जांच करते हुए सर्चिंग अभियान चलाया जाना चाहिए और यह भी ध्यान रखें कि पुलिस द्वारा चलाए जा रहे सर्चिंग अभियान से क्षेत्र के ग्रामीण जनों को किसी प्रकार की परेशानी और असुविधा नहीं होनी चाहिए। उन्होंने यह भी निर्देशित किया कि केन्द्रीय अर्द्धसैनिक बलों के जवानों तथा राज्य पुलिस के जवानों की सुरक्षा भी सुनिश्चित होनी चाहिए।

बैठक में आईजी दुर्ग श्री विवेकानंद सिन्हा , आईजी बालाघाट श्री के पी वेंकटराव, डीआईजी शहडोल श्री पीएस उईके, डीआईजी बालाघाट श्री आर एस डहेरिया, एसएसपी राजनांदगांव श्री बी एस ध्रुव, एसपी कबीरधाम डॉ लाल उम्मेद सिंह, एसपी बालाघाट श्री अभिषेक तिवारी, सेनानी हॉक फोर्स बालाघाट श्री तरुण नायक, सेनानी कोबरा बटालियन बालाघाट श्री अमित कुमार, सेनानी कोबरा बालाघाट श्री कमलेश कुमार, एसपी डिंडौरी श्री पुरुषोत्तम सोलंकी, एसपी मंडला श्री दीपक शुक्ला, एसपी अनूपपुर किरणलता केरकेट्टा उपस्थित रहे।