Thursday , February 9 2023
Home / MainSlide / बीजापुर नक्सल हमले में सुरक्षा बलों के 22 जवान शहीद,एक लापता

बीजापुर नक्सल हमले में सुरक्षा बलों के 22 जवान शहीद,एक लापता

(फाइल फोटो)

रायपुर 04 अप्रैल।छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सलियों के साथ कल हुई मुठभेड़ में सुरक्षा बलों के 22 जवान शहीद हो गए,जबकि एक जवान अभी तक लापता है।

राज्य पुलिस मुख्यालय की आज यहां जारी विज्ञप्ति के अनुसार बीजापुर जिले के सुकमा जिले की सीमा से जुड़े सीमावर्ती थाना क्षेत्र तरेंम के गुण्डम, टेकलागुडम, जोनागुडम,अलीगुडम के जंगल क्षेत्र में माओवादियों की सशस्त्र बटालियन की उपस्थिति की सूचना पर जिला पुलिस,एसटीएफ,कोबरा एवं सीआपपीएफ का संयुक्त बल कल भेजा गया था।कल दोपहर इस दल की टेकलागुडम एवं जोनागुडम के जंगल में इनकी माओवादियों की सशस्त्र बटालियन के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई।

इस मुठभेड़ में जिला पुलिस के आठ,एसटीएफ के छह,कोबरा के सात एवं बस्तर बटालियन का एक जवान शहीद हो गया।घटना के बाद से कोबरा का एक जवान राकेश्वर सिंह मनहास लापता है,जिसकी तलाश जारी है।घटना में गंभीर रूप से घायल 13 जवानों को बेहतर उपचार के लिए एयरलिफ्ट कर रायपुर लाया गया है जबकि घायल 18 अय जवानों का उपचार बीजापुर जिला अस्पताल में किया जा रहा है।

घटनास्थल से एक महिला माओवादी कमाण्डर का शव इंसा राइफल के साथ बरामद किया गया है।जिसकी शिनाख्त पामेड़ एलजीएस कमाण्डर माड़वी वनोजा के रूप में हुई है।पुलिस को इस मुठभेड़ में कम से कम 12 नक्सलियों के मारे जाने 16 से अधिक के घायल होने का विश्वास है।पुलिस को मारे गए और घायल नक्सलियों को ट्रैक्टर से ले जाने की सूचना मिली है।

घटना में शहीद जिला पुलिस एवं एसटीएफ के सभी जवान छत्तीसगढ़ के निवासी है,जबकि कोरबा की 210 बटालियन के शहीद एक उप निरीक्षक सहित सात जवानों में दो असम,दो उत्तरप्रदेश,दो आन्ध्रप्रदेश एवं एक त्रिपुरा का निवासी है।सभी के पारिछिव शरीर उनके गृहनगर भेंजा जा रहा है।