Sunday , October 1 2023
Home / MainSlide / रायपुर जिले में गर्भावस्था के पहले तीन महीने में अनिवार्य होगी सोनोग्राफी- कलेक्टर

रायपुर जिले में गर्भावस्था के पहले तीन महीने में अनिवार्य होगी सोनोग्राफी- कलेक्टर

रायपुर 07 जुलाई।रायपुर जिले में अब सभी गर्भवती महिला की गर्भावस्था के पहले तीन महीनों में अनिवार्यतः सोनोग्राफी की जाएगी। इससे गर्भावस्था में ही गर्भस्थ शिशु में किसी बड़ी बीमारी या किसी शारिरिक विकृति का समय रहते पता लग जाएगा और उसका यथासंभव समय पर ईलाज हो सकेगा।

जिले के नव नियुक्त कलेक्टर डॉ.सर्वेश्वर भुरे ने आज स्वास्थ्य विभाग के कामकाज की समीक्षा के दौरान सभी डॉक्टरों को इसके निर्देश दिए है। डॉ भुरे ने जिले के ग्रामीण और शहरी दोनो क्षेत्रों में गर्भवती महिलाओं को पहली तिमाही में सोनोग्राफी के लिए अस्पताल तक लाने की जिम्मेदारी भी खंड चिकित्सा अधिकारियों को सौंपी है। इसके लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के साथ-साथ स्थानीय मितानिनों और स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की भी मदद ली जाएगी।

बैठक में कलेक्टर ने कहा कि पहली तिमाही में गर्भवती महिला की सोनोग्राफी कराने की छोटी सी पहल से स्वस्थ्य शिशु के जन्म के साथ-साथ बाद में बीमार बच्चें के ईलाज में होने वाले खर्चे और माता-पिता को कई प्रकार की परेशानियों से बचाया जा सकता है। बैठक में सी.एम.एच.ओ डॉ मीरा बघेल के साथ सभी खंड चिकित्सा अधिकारी, शासकीय कार्यक्रमों के नोडल अधिकारी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक भी मौजूद थे।