Thursday , June 20 2024
Home / MainSlide / रेत घाटों की नीलामी नहीं करके पुराने ठेकेदारों को इसे सौंपने का कौशिक ने किया विरोध

रेत घाटों की नीलामी नहीं करके पुराने ठेकेदारों को इसे सौंपने का कौशिक ने किया विरोध

रायपुर 19 अक्टूबर।वरिष्ठ भाजपा नेता एवं विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरम लाल कौशिक ने इस वर्ष रेत घाटों की नीलामी नहीं करके पुराने ठेकेदारों को ही फिर से इसका ज़िम्मा सौंपे जाने के भूपेश सरकार के फैसले पर कड़ा ऐतराज़ जताया है।

श्री कौशिक ने आज यहां जारी बयान में कहा कि प्रदेश सरकार के इस फैसले के चलते प्रदेश में रेत माफ़ियाओं की दबंगई राजनीतिक व सत्ता-संरक्षण में सिर चढ़कर प्रदेश में क़ोहराम मचाएगी। रेत सिंडीकेट से मिलीभगत करके ये ठेकेदार फिर उसी तर्ज पर पर्यावरण नियमों की अनदेखी करके रेत की खुदाई का काम करेंगे, जैसा कांग्रेस की इस प्रदेश सरकार के पूरे कार्यकाल में उन्होंने किया है। श्री कौशिक ने कहा कि मुख्यमंत्री सहमति पर रेत माफ़ियाओं को प्रदेश को लूटने और प्रदेश के लोगों की जान साँसत में डालने का हक़ प्रदेश सरकार ने देने का काम किया है।

उन्होने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार के सत्ता में आने के बाद से भाजपा लगातार यह बात कहती आ रही है कि प्रदेश सरकार ने छत्तीसगढ़ को माफ़ियाओं के हवाले करके उन्हें प्रदेशभर में ग्रामीणों, जनप्रतिनिधियों और सरकारी अधिकारियों-कर्मचारियों की जान लेकर, उन पर जानलेवा हमले करके प्रदेशभर में क़ोहराम मचाने की खुली छूट दे रखी है। अभी एक सप्ताह के भीतर ही रेत माफ़ियाओं ने एक सरकारी अधिकारी के वाहन में तोड़फोड़ करके उन पर जानलेवा हमला करने का कृत्य किया है।

श्री कौशिक ने कहा कि रेत सिंडीकेट के दबाव में और उन्हें रेत घाटों पर खुली लूट करने का मौक़ा देने के लिए प्रदेश सरकार रेत घाटों की नीलामी के लिए निविदा प्रक्रिया नहीं की है। ज़ाहिर है, रेत सिंडीकेट और माफ़ियाओं की मिलीभगत से होने वाली लूट के कारण लोगों को इस साल और भी महंगी रेत ख़रीदनी पड़ेगी।