Thursday , December 1 2022
Home / राजनीति / आजम और राजभर के बेटे आपस में भिड़े, जानें किस मुद्दे पर हुई नोंकझोंक

आजम और राजभर के बेटे आपस में भिड़े, जानें किस मुद्दे पर हुई नोंकझोंक

समाजवादी पार्टी के चीफ अखिलेश यादव पर आजम खान के कथित बयान को लेकर अब्दुल्ला आजम और ओमप्रकाश राजभर के बेटे अरविंद राजभर के बीच ट्विटर पर तीखी नोंकझोंक हुई. इस बातचीत में जहां आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम ने अरविंद राजभर को झूठ नहीं बोलने की हिदायत दी तो वहीं अरविंद राजभर ने भी कड़े शब्दों में जवाब दिया. गौरतलब है कि जहां अब्दुल्ला आजम समाजवादी पार्टी के सदस्य हैं तो वहीं दूसरी अरविंद राजभर की पार्टी सपा की गठबंधन की साथी है.
आजम के बयान पर अब्दुल्ला-अरविंद आए आमने-सामने बता दें कि हाल ही में उपचुनाव में हार के बाद एसबीएसपी के चीफ ओमप्रकाश राजभर ने अखिलेश यादव पर तंज कसा था और उन्हें एसी कमरों से बाहर निकलने की सलाह दी थी. बाद में आजम खान ने भी कहा था कि हमने उन्हें कभी धूप में खड़े नहीं देखा. हालांकि आजम खान ने किसी का नाम लिए बिना ये बात कही थी. अब आजम खान और अरविंद राजभर के बीच इस बात को लेकर नोंकझोंक हो रही है कि ये बात आजम खान ने अखिलेश यादव के लिए कही या ओमप्रकाश राजभर के लिए. अब्दुल्ला आजम ने दी झूठ न बोलने की हिदायत आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम ने ट्वीट किया, सवाल- ओपी राजभर कहते हैं कि अखिलेश यादव AC कमरे से नहीं निकलते? आजम खां- हमने उन्हें (ओ पी राजभर) कभी धूप में खड़ा नहीं देखा. झूठ न बोलें, सच बोलें तो बेहतर होगा.
  अरविंद राजभर ने दिया करारा जवाब फिर, इसका जवाब देते हुए ओमप्रकाश राजभर के बेटे अरविंद राजभर ने ट्वीट किया, ‘जुबान से निकले हुए शब्द वापस नहीं लिए जा सकते हैं अब सफाई देकर और संदेह उत्पन्न न किया जाय.’ जान लें कि ट्वीट के साथ में अरविंद राजभर ने अब्दुल्ला आजम के ट्वीट का स्क्रीनशॉट भी शेयर किया.  
गौरतलब है कि समाजवादी पार्टी और ओमप्रकाश राजभर की पार्टी एसबीएसपी में दूरियां बढ़ने की भी खबर है. एसबीएसपी ने राष्ट्रपति चुनाव में सपा की तरह विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा का समर्थन नहीं किया. इससे पहले जब यशवंत सिन्हा यूपी में गठबंधन के विधायकों और सांसदों से मिलने आए थे तब सपा की तरफ से ओपी राजभर को निमंत्रण नहीं दिया गया था. हालांकि गठबंधन के अन्य साथी जयंत चौधरी को इस बैठक में बुलाया गया था.