Saturday , March 2 2024
Home / जीवनशैली / जानें माघ पूर्णिमा के दिन किन उपायों को करने से मां लक्ष्मी होंगी प्रसन्न

जानें माघ पूर्णिमा के दिन किन उपायों को करने से मां लक्ष्मी होंगी प्रसन्न

हिंदू धर्म में माघ पूर्णिमा का विशेष महत्व है। इस दिन को माघी पूर्णिमा भी कहा जाता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, माघ पूर्णिमा के दिन स्नान-दान करने से पुण्य की प्राप्ति होती है। पवित्र नदी में स्नान करने से जातक के सभी पाप मिट जाते हैं। मान्यता है कि इस भगवान विष्णु गंगाजल में निवास करते हैं। माघ पूर्णिमा का दिन मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए अति उत्तम माना गया है। इस दिन कुछ उपायों को करने से धन का आगमन और कर्ज से छुटकारा मिलने की मान्यता है।

This image has an empty alt attribute; its file name is 99.jpg

1. माघ पूर्णिमा के दिन गंगा स्नान करना अति लाभकारी माना गया है। मान्यता है कि इस दिन गंगा स्नान करके भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा करनी चाहिए। ऐसा करने से जीवन में सुख-समृद्धि व वैभव की प्राप्ति होती है।

2. माघ पूर्णिमा के दिन मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए मां लक्ष्मी के मंत्रों का जाप करना चाहिए। मान्यता है कि ऐसा करने से जीवन से आर्थिक तंगी दूर होती है और बरकत का घर में वास होता है।

3. माघ पूर्णिमा के दिन मां लक्ष्मी को पीले व लाल रंग की सामग्री अर्पित करें। मां लक्ष्मी को खीर का भोग लगाएं। मान्यता है कि ऐसा करने से मां लक्ष्मी का घर में आगमन होता है।

4. पूर्णिमा के दिन चंद्रदेव की पूजा का विधान है। पूर्णिमा की रात को चंद्रदेव को अर्घ्य देने के बाद खीर का भोग लगाएं। मान्यता है कि ऐसा करने से चंद्र ग्रह मजबूत होता है और जातक को आर्थिक लाभ होता है।

5. कर्ज से मुक्ति व आर्थिक तंगी से मुक्ति पाने के लिए माघ पूर्णिमा के दिन कौड़ी से जुड़ा उपाय जरूर करना चाहिए। इसके लिए 11 कौड़ियों पर हल्दी लगाकर उसे मां लक्ष्मी को अर्पित करें। फिर मां के सामने अपनी मनोकामना बोले और आर्थिक उन्नति की कामना करें। फिर इन कौड़ियों को तिजोरी या अलमारी में रख दें।

6. पूर्णिमा के दिन तुलसी जी के सामने दीया जलाना अत्यंत लाभकारी माना गया है। मान्यता है कि ऐसा करने से घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है और सुख-समृद्धि घर आती है।

7. पूर्णिमा के दिन लक्ष्मी माता की पूजा करने से धन लाभ के योग बनते हैं। इसलिए इस दिन मां लक्ष्मी की पूजा करने के  साथ श्रीसूक्त का पाठ करें। मान्यता है कि ऐसा करने से जातक को जीवन में किसी चीज की कमी नहीं रहती है।