Friday , February 3 2023
Home / आलेख (page 30)

आलेख

लंतरानी पर लोकाचार की जीत और ताताथैया-पंकज शर्मा

अब से चार साल पहले कांग्रेस की फांस समझे जा रहे राहुल गांधी आज देश की आस बन गए हैं और चार साल पहले मुल्क़ की सांस समझे जा रहे नरेंद्र मोदी अब, देश तो छोड़िए, भारतीय जनता पार्टी की भी फांस बन गए हैं। ऐसी उलटबांसी भारत की राजनीति …

Read More »

मोदी की ‘एडवायजरी’ में वोट पकाने वाले बयानों पर लगाम नहीं – उमेश त्रिवेदी

पता नही, गूगल के सर्च-इंजिन से महामुनि नारद की तुलना करने वाले गुजरात के मुख्यमंत्री विजय कुमार रूपाणी से कुछ कहा जाएगा अथवा नहीं, लेकिन युवकों को पान की दुकान खोलने का सुझाव देने वाले त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लव देव को प्रधानमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष की डांट पड़ना …

Read More »

म.प्र.में शाह भाजपाइयों को और दिग्विजय कांग्रेसियों को करेंगे रिचार्ज – अरूण पटेल

मध्यप्रदेश में भाजपा ने मिशन 2018 की सफलता के लिए जहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और केंद्रीय पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की जोड़ी बनाई है तो वहीं कांग्रेस ने भी इसके मुकाबले के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री द्वय कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया के चेहरे सामने कर …

Read More »

सुप्रीम कोर्ट को भी Y ‘बैण्ड-विड्थ’ पर ‘ट्यून’ करने की कोशिशें – उमेश त्रिवेदी

जजों की नियुक्ति के बहाने सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम की हस्ती ठुकरा कर मोदी-सरकार ने अपने इरादे साफ कर दिए हैं कि अब वह सर्वोच्च न्यायालय को भी लोकसभा और राज्यसभा की तर्ज पर सरकार की राजनीतिक ‘बैण्ड-विड्थ’ के साथ ट्यून करने की दिशा में तेजी से कदम बढ़ाना चाहती है। …

Read More »

‘आसाराम उर्फ असुमल’ की सजा से उभरे सवालों की पड़ताल – उमेश त्रिवेदी

नाबालिग लड़की के साथ बलात्कार करने के जुर्म में आसाराम उर्फ असुमल था उमल हरपलानी, उम्र 78 साल निवासी अहमदाबाद को आजीवन कारावास की सजा मिलने के बाद संत परम्परा के इंद्रजाल की काली गुफाओं को खंगालने का वक्त भी आ गया है।भारत में संत-साम्राज्य के विस्तार की गति चौंकाने …

Read More »

महाभियोग : संसद के बाद न्याय पालिका पर राजनीतिक अंकुश – उमेश त्रिवेदी

राज्यसभा में प्रतिपक्ष द्वारा सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ प्रस्तुत महाभियोग प्रस्ताव खारिज होने के बाद भी न्यायपालिका की फजीहत का दौर थमने वाला नहीं है। उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू द्वारा ’रिजेक्शन’ की फुर्तीली कार्रवाई ने महाभियोग से जुड़ी शंका-कुशंकाओं को नई शक्ल देकर राजनीतिक कुरूपता …

Read More »

म.प्र. में ‘शिवराज’ और ‘नरेन्द्र’ की जोड़ी के सामने टिक पाएगी कांग्रेस ?- अरुण पटेल

मिशन-2018 के लिए भारतीय जनता पार्टी ने अपनी उस टीम का एलान कर दिया है जिसके भरोसे वह चौथी बार राज्य में सरकार बनाने की दिशा में सधे हुए कदमों से आगे बढ़ना चाहती है। लगभग 33 साल बाद भारतीय जनता पार्टी ने महाकौशल की सुध ली है।इस अंचल की …

Read More »

इस सादगी पे कौन न मर जाए, ऐ खुदा ! – पंकज शर्मा

इस बुधवार हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र भाई दामोदर दास मोदी ने लंदन में अपनी ज़ुबानी-लच्छेदारी का जो जलवा दिखाया, उसने मुझे तो झकझोर कर रख दिया। मैं अब तक अपना सिर खुजाते हुए सोच रहा हूं कि अगर नरेंद्र भाई की आत्मा इतनी पवित्र है और चार बरस में उन्होंने ऐसे-ऐसे …

Read More »

‘मोदी जो मनमोहन को सिखाते थे, उस पर अमल करें…’ – उमेश त्रिवेदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के भाषणों का सांख्यिकी-विश्लेषण अभी तक नहीं हुआ है, लेकिन उनके बारे में लोकप्रिय थीसिस अथवा परसेप्शन यह है कि देश पर राज करने वाले भारत के सभी पंद्रह प्रधानमंत्रियों में नरेन्द्र मोदी भाषणबाजी में सबसे अव्वल माने जा सकते हैं। दूसरी धारणा यह है कि दो …

Read More »

अब ‘दिग्विजय’ खुद को नहीं कांग्रेस को करेंगे बुलन्द – अरुण पटेल

राजनीति में पारंगत राजनेता दिग्विजय सिंह अब धर्म और अध्यात्म से लैस होकर मध्यप्रदेश  की राजनीति में आगे क्या कदम उठायेंगे इसको लेकर न केवल कांग्रेसियों को बल्कि भाजपा खेमे में भी उत्सुकता से इंतजार है। यह सवाल इसलिए उठ रहा है क्योंकि यात्रा की समाप्ति के अवसर पर जो …

Read More »